Consult

Jyotishguru Deepak Kapoor

at

Gurgaon

Send SMS to 9868463900

Giving your name

&

mobile number

Tuesday, September 3, 2019

Tuesday 3rd September 2019, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

आज 03 सितम्बर 2019 है और मंगलवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2076 है और शक संवत 1941
भाद्रपद मास चल रहा है और शुक्ल पक्ष
पंचमी तिथि है रात 11 बजकर 28 मिनट तक और उसके बाद षष्ठी तिथि है.
चित्रा नक्षत्र है सुबह 06 बजकर 24 मिनट तक और उसके बाद स्वाति नक्षत्र है.
चंद्रमा चल रहे हैं तुला राशि में.
आज ऋषि पंचमी है और वैधृति महापात है सुबह 06 बजकर 50 मिनट से दोपहर 11 बजकर 09 मिनट तक.

मेष (Aries) आप चाह तो रहे हैं की लोगों की तरफदारी की जाए पर मन में बहुत सारा असंतोष है इस बात को लेकर, इसलिए ऐसा लगता है की हर व्यक्ति को आप किसी न किसी तरह की शक की नजर से ही देख रहे हैं. जरूरत यह है की रिश्तों को संभाले रखने के लिए आप दिल से लोगों को चाहें और उनसे जुड़े रहें.
क्या करें – कोई प्यार का रिश्ता ऐसे में आपकी इच्छाओं की पूर्ती कर सकता है जिस वजह से आप का झुकाव किसी की चाहत से जुड़ा हुआ है, फिर भी अपनों को साथ लेकर चलना होगा और हर कदम पर अपनों के समर्थन की जरूरत पड़ेगी. थोड़ी सी विनम्रता अपनाने से आपकी ज़िन्दगी की खुशियाँ बनी रहेंगी.
क्या न करें – पैसे के नुकसान के साथ-साथ रिश्तों के नुकसान की ओर नजर रखनी होगी. अपने बड़े बुजुर्गों की बात को किसी भी वजह से काटे नहीं. कहीं ऐसा न हो की उनका आशीर्वाद मिलने में भी कोई न कोई कमी रह जाए. आज के दिन में ख़ास – मेष राशी वालों के लिए आज के दिन में ख़ास यह है जी की जो भी कर रहे हैं उसमें भरोसा करना सीखना होगा. अपनी शक्सियत को सुधारने के लिए अपने नजरिये को सुधारना पड़ेगा, तभी जाकर आप अपने हालात को सुधार पाएंगे.

वृषभ (Taurus) ग़लतफहमी पैदा होने के कई सारे कारण हो सकते हैं. अगर आप लोगों की लगातार आलोचना करते चले जाएँ तो भी रिश्तों में दरार पड़ सकती है और लापरवाही से किसी को कही हुई बात भी किसी को चुभ सकती है.
क्या करें – जितना अपने मन में शान्ति बनाये रखेंगे उतना ही किसी नकारात्मकता से बचे रहेंगे, इसलिए ज़िन्दगी की खुशियाँ बनाये रखना हर हाल में बहुत जरूरी होगा. अच्छी बात यह है की लोग आपको समझ पा रहे हैं और आपसे जुड़ना चाह रहे हैं. ऐसा करते हुए किसी भी तरह की ग़लतफहमी को संभालना भी आसान हो जाएगा.
क्या न करें –  अगर आप अविवाहित हैं तो कोई रिश्ता उभर सकता है और शादी की संभावनाएं बढ़ सकती हैं पर ऐसे में हर एक की गलती निकालते चले जाना भी ठीक नहीं है. किसी भी वजह से अपने अच्छे भले बनते हुए रास्ते में रुकावटें न पैदा करें.

मिथुन (Gemini) कुछ सीखने की और कुछ पाने की क्षमता भरपूर है आपके अंदर पर यह समय ही कुछ ऐसा है जो आपके अविश्वास को बढाता हुआ नज़र आ रहा है. इसका बुरा असर यह हो सकता है की आपकी मेहनत में कमी आ जाए इसलिए भरोसा करना सीखना होगा और अपने दम पर बहुत कुछ पाने की कोशिश भी करनी होगी.
क्या करें – किसी यात्रा या बदलाव से भी सुखद परिस्थितियां बन सकती हैं. कम से कम निजी जीवन के हालात को सँभालने में मदद मिल सकती है ताकि रिश्तों की गरिमा बनी रहे, इसलिए कोशिश करें की आपकी अच्छाई लोगों के लिए हर सूरत में लोगों के प्रति बनी रहे.
क्या न करें – अपने किसी साथी सहयोगी से अनबन न पैदा करें. आप सही भी हों तो भी कोई ऐसी स्तिथि न बनने दें की आप लोगों में कमियां ढूंढनी शुरू कर दें.

कर्क (Cancer) हालात सुखद हैं पर मन में चिंता है की कहीं कोई नुकसान तो नहीं हो जाएगा, इसी वजह से एक ऐसा अविश्वास बढ़ता हुआ नजर आ रहा है जो आपकी अच्छी-भली स्तिथि को कमज़ोर करता चला जाए.
क्या करें – आर्थिक स्तिथि मज़बूत है और कामकाज से लाभ बना हुआ है. इस अच्छाई की ओर देखें और इस अच्छाई को बनाये रखें. ज़िन्दगी आप पर मेहरबान है और आप पर मुस्कुरा रही है, यह भी बहुत बड़ा आशीर्वाद है.
क्या न करें – किसी साथी सहयोगी से उलझते न चले जाएँ. कहीं ऐसा न हो की वो ओर लोगों को भी आपके खिलाफ उकसाए और आपकी मुश्किलों को बढाता चला जाए.

सिंह (Leo) आपकी मेहनत भी बनी हुई है और धनलाभ भी बना हुआ है पर अपने लाभ से आप बहुत ज्यादा खुश नहीं हैं. आपको ऐसा लगता है की आपको आपकी मेहनत का पूरा मेहनताना नहीं मिल रहा, जबकि साफ इशारा यह है की आपकी इच्छाएं कुछ जरूरत से ज्यादा ही बढ़ी हुई है.
क्या करें – कामकाज में अपनी लगन बनाये रखें और अपने दम पर अपनी इच्छाओं को पूरा करने की कोशिश कर लें. यह समय आपको हर रूप से मदद करता चला जाएगा और आपकी सफलता सुनिश्चित हो जायेगी. आप अपने दम पर अपनी ज़िन्दगी की खुशियों को बना सकते हैं ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – अपने विचारों को लोगों पर थोपने की कोशिश न करें और ऐसा करके आप अपनी ज़िन्दगी की रुकावटों को बढाते न चले जाएँ. निजी जीवन में कोई ऐसा तकरार न उत्पन्न होने दें जो आपके व्यवहार में कोई कम ले आए.

कन्या (Virgo) आमदनी ठीक है पर पैसे से जुड़े हालात बेकाबू होते चले जा रहे हैं. इसका बुरा असर यह पड़ रहा है की कामकाज से जुड़े फैसलों में भी कमी आ सकती है. कोशिश यह करनी होगी की अपने हालात को भलीभांति समझा जा सके.
क्या करें – अपने पैसे को बर्बाद करते चले जाने से बचना होगा पर उससे भी ज्यादा बड़ी जरूरत यह होगी की आप किसी भी तरह के खतरे से बचकर निकल जाएँ ताकि नुकसान की स्तिथि संभली रहे. किसी भी गलती भरे समय में बचाव तो बनाना ही पड़ता है.
क्या न करें – लोग आपके लिए अच्छा सोचते हैं इसी वजह से आप ओर ज्यादा गलतियाँ न करनी शुरू कर दें इसलिए लापरवाह भी न होते चले जाएँ. यह समय ही कुछ ऐसा है जिसमें अपने हित के खिलाफ कुछ भी करना ठीक नहीं है.

तुला (Libra) कामकाज से जुडी परिस्थितियां आपके पक्ष में बनती चली जा रही हैं. आप भी अपनी एकाग्रता को बनाये हुए हैं ताकि ज़िन्दगी आप पर मेहरबान बनी रहे, पर आपको लगता है की हालात ने आपका पूरा साथ नहीं दिया, इस वजह से भी मन में बेचैनी हैं.
क्या करें – उस अच्छाई की ओर देखें जो आपने प्राप्त कर ली है और सुकून प्राप्त करने की कोशिश करें क्योंकि ज़िन्दगी आपके लिए सही रफ़्तार से और सही दिशा में बढ़ रही है. कोई भी समय जो आपसे मेहनत करवा ले और उस मेहनत का अच्छा फल दे ले वही अच्छा होता है.
क्या न करें – न तो किसी से कोई तीखी बात कहें और न ही पैसे के पीछे भागते चले जाएँ. पैसा आ जाएगा और कोई कमी नहीं रहेगी पर रिश्तों में पडती हुई दरार को संभालना आसान नहीं होगा.

वृश्चिक (Scorpio) मन उचाट है और कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा जबकि काम और कारोबार से जुड़ी इससे बेहतर परिस्थितियां बन नहीं सकती. यथास्थिति बनाये रखना बहुत जरूरी होगा ताकि ज़िन्दगी की अच्छाई हर तरह से बनी रहे और कोई फेरबदल उसमें नुकसान न पैदा करता चला जाए.
क्या करें – लोगों की अच्छी सलाह को मान लें और लोगों के साथ तालमेल बनाकर चलें. आपसी रंजिशों को भुला देने का समय है.
क्या न करें – किसी ऐसे विकल्प के बारे में जरुर सोचें जो आपकी क्षमताओं को बढ़ा रहा हो लेकिन ऐसा करते हुए अपने व्यवहार को बहुत ज्यादा सख्त न बनाते चले जाएँ. रिश्तों में मधुरता बनाये रखना बहुत जरूरी है क्योंकि ऐसा करने से ही आप अपने भटकते हुए मन को संभाल पाएंगे.

धनु (Sagittarius) हालात मददगार हैं और आपके दोस्त आपका साथ निभा रहे हैं पर अपने आसपास के लोगों से आप बहुत ज्यादा खुश नहीं हैं. अगर ध्यानपूर्वक सोचेंगे तो आपको अपनी गलतियाँ भी जरूर नजर आएँगी.
क्या करें – कोई भी अच्छा समय इंसान की गलतियों को संभाल लेता है. इस चीज़ की अपनी अहमियत है पर फिर भी आपको अपनी गलतियों की ओर एक नजर रखनी होगी और कोई बड़ा कदम उठाकर अपना नुकसान करते चले जाने से बचना होगा.
क्या न करें – कोई ऐसा स्थान परिवर्तन न करें जिसकी अभी जरूरत नहीं है. ना ही लोगों से दूरियां बनाते चले जाएँ. कामकाज की स्तिथि संभली हुई है और धनलाभ बना हुआ है, पर उसे किसी भी वजह से कम कर लेना भी ठीक नहीं है.

मकर (Capricorn) आपका बहुत मन है की अपने हालात को सुदृढ़ किया जाए. लोग भी आपका साथ निभा रहे हैं पर हालात वहीँ के वहीँ हैं. बहुत सारे दबाव हैं आपके ऊपर जिस वजह से मुश्किलें थम नहीं रहीं.
क्या करें – कामकाज की स्तिथि दबाव भरी हो सकती है उसे चुनोती समझकर संभालने की कोशिश करें तो हालात साथ दे सकते हैं पर गलती यह हो रही है की आप अपना ही नुकसान करने पर अमादा हैं और इसी चीज़ से बचने की जरूरत है.
क्या न करें – कोई भी ऐसा फैसला न करें जिसका बुरा असर आपकी आर्थिक स्तिथि पर पड़े. कामकाज से जुड़े दबाव पैसे से जुड़े दबाव में परिवर्तित हो सकते हैं इसलिए किसी एक गलती का असर बाकी चीज़ों पर बिलकुल न आने दें.

कुम्भ (Aquarius) कामकाज की स्तिथि ठीक है और उसे बढ़ावा भी दिया जा सकता है पर आपको अपनी क्षमताओं पर भरोसा नहीं हो रहा. आपको लगता है की लोग बहुत ज्यादा जानते हैं और आपकी जानकारी में कोई न कोई कमी है.
क्या करें – घर-परिवार की खुशियाँ बनाये रखने का समय है. हर एक से ऐसा तालमेल बनाएं जो आपसी प्यार मोहब्बत बनाये रखे. थोड़ी सी कोशिश से आप यह सबकुछ कर पाएंगे ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – किसी भी चीज़ में बहुत ज्यादा पैसा लगाकर अपने लिए नुकसान की स्तिथि न बनाएं, इसलिए थोड़ा सा धैर्य रख लें. सूझबूझ से बढाये गए कदम कभी भी आपका नुकसान नहीं करेंगे.

मीन (Pisces) मन परेशान है और रिश्तों से जुड़ी दुविधाएं बनी हुई हैं. ऐसे में अपनों के प्रति अविश्वास बनता चला जा रहा है जो ठीक नहीं है. अपने बनते बिगड़ते हालात को सँभालने के लिए अपनों पर भरोसा तो करना ही पड़ेगा तभी जाकर मुश्किलों का समाधान हो पाएगा.
क्या करें – आपकी मेहनत बिखरी पड़ी है. जो आप कर सकते हैं उसमें भी कमी है और कुछ ऐसा लगता है की आप सिर्फ तकदीर के भरोसे चलना चाह रहे हैं. ऐसा करने से ही परेशानियाँ पैदा होती हैं. कोशिश यह करनी होगी की रिश्तों को भी संभाला जाए और अपनी कोशिशों में भी केन्द्रित हो जाया जाए. तभी जाकर बात बनेगी.

क्या न करें – अपने बड़े बुजुर्गों की सेहत को नज़रंदाज़ न करें और अगर कोई चीज़ समझ में नहीं आ रही तो लोगों पर अपना दबाव न बनाएं और अपनी बात मनवाने की कोशिश न करें क्योंकि ऐसा करने से भी मुश्किलों के बढ़ जाने का अंदेशा है. कोई भी बड़ा कदम उठाने से पहले थोड़ा सा रुक जाने की जरूरत पड़ सकती है.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.