Personal appointments

at Dwarka and Gurgaon

are on hold

You can however consult

Jyotishguru Deepak Kapoor

over phone

Place your order for

“Astrotalk”

at www.Jyotishguru .com

Friday, January 31, 2020

Friday 31st January 2020, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

आज 31 जनवरी 2020 है और शुक्रवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2076 है और शक संवत 1941
माघ मास चल रहा है और शुक्ल पक्ष
षष्ठी तिथि है दोपहर 03 बजकर 52 मिनट और उसके बाद सप्तमी तिथि है.
रेवती नक्षत्र है शाम 06 बजकर 10 मिनट तक और उसके बाद अश्विनी नक्षत्र है.
चन्द्रमा चल रहे हैं मीन राशि में और चंद्रमा मेष राशि में प्रवेश करेंगे शाम 06 बजकर 10 मिनट पर.
आज पंचक समाप्त हो रहे हैं शाम 06 बजकर 10 मिनट पर और बंगाल में मनाई जाने वाली शीतला षष्ठी है.
आज 31 जनवरी 2020 को नए घर की नींव रखने का और विद्या आरम्भ करने का मुहूर्त है सुबह 07 बजकर 10 मिनट से दोपहर 03 बजकर 22 मिनट तक.
व्यापार आरंभ करने का और नए और पुराने घर में प्रवेश करने का मुहूर्त है सुबह 07 बजकर 10 मिनट से शाम 05 बजकर 22 मिनट तक.
सगाई का मुहूर्त है दोपहर 03 बजकर 52 मिनट से शाम 05 बजकर 22 मिनट तक और उसके बाद शाम 06 बजकर 58 मिनट से रात 09 बजकर 13 मिनट तक और मशीनरी या वाहन खरीदने का मुहूर्त है सुबह 07 बजकर 10 मिनट से रात 09 बजकर 23 मिनट तक.

मेष (Aries) एक ओर तो पैसे के बढ़ते हुए दबाव की चिंता है दूसरी ओर अपनों से फासले बनते चले जा रहे हैं. अपने मन में कोई ऐसा विचार बनाने से बचना होगा जो आपको अपनों से दूर ले जाए, क्योंकि ऐसा करना आपकी गलती होगी. अगर परिस्थितियां आपको दूर ले जा रही हैं तो भी अपनों से जुड़े रहने का प्रयास करना होगा.
क्या करें – कामकाज की स्थिरता बनाये रखने के लिए अपने प्रदर्शन को बहुत ऊंचे स्तर का ले जाना होगा और काम या कारोबार में इसी प्रयास के चलते तरक्की भी मिल सकती है, पर अपने भटकते हुए मन को थामना होगा ताकि किसी भी तरह के बड़े परिवर्तन से भी बचा जा सके.
क्या न करें – हालात हर तरह से मददगार हो सकते हैं इसलिए सूझबूझ से फैसले करने होंगे. किसी भी तरह की उत्तेजना के तहत कोई ऐसा फैसला न करें जो आपको नुकसान की ओर ले जाए या आपकी मुश्किलों का कारण बनता चला जाए.

वृषभ (Taurus) पैसे से जुड़े दबाव बने रह सकते हैं पर इस समय की सबसे बड़ी चिंता यह है की अपने काम को कैसे मजबूत किया जाए और उसमें कैसे आगे बढ़ा जाए. आपकी कोशिशें अच्छी हैं और आपकी लगन इसमें हर तरह से मदद भी कर सकती हैं, यह भी बहुत बड़ा आशीर्वाद है.
क्या करें – हालात आपकी मदद करना चाह रहे हैं. आपके अपनों का साथ भी मिला हुआ है, इसी के चलते अपने कामकाज को नई दिशा दी जा सकती है. लोगों की भी अहम भूमिका बनी रहेगी आपकी ज़िन्दगी में जो आपके काम या कारोबार को आगे बढाने में मदद करे.
क्या न करें – अपने से वरिष्ठ लोगों को किसी भी वजह से नाराज़ न करते चले जाएँ. अगर आपके मन में कोई ऐसा विचार है की कोई आपका गलत फायदा उठा रहा है तो भी उस विचार की वजह से कोई ग़लतफहमी न उत्पन्न होने दें.

मिथुन (Gemini) काम के प्रति आप समर्पित हैं पर बढ़ते हुए खर्चों की चिंता आपको सता रही है. कामकाज के क्षेत्र में भी ज्यादा पैसा लग सकता है जिस वजह से सही योजना बनानी होगी ताकि हालात आपकी पकड़ में बने रहें.
क्या करें – रोज़मर्रा की मुश्किलें हो सकती हैं, उसका एक कारण यह भी है की आपने अपने कोशिशों को कम कर रखा है. अपने साथी-सहयोगियों से भी तालमेल बिठाने की जरूरत पड़ सकती है जो आपके हालात को सँभालने में मदद करे. रिश्तों को संभाले रखने के लिए भी सूझबूझ अपनानी होगी.
क्या न करें – अपने काम और काम से जुड़े आशीर्वाद को किसी भी वजह से कम न समझें. कहीं ऐसा न हो की लोगों के बनते बिगड़ते विचारों से आप काम से अपना मन हटा लें.

कर्क (Cancer) हालात शायद उतने मददगार न हों जितनी की आप उम्मीद लगा रहे हैं इसलिए रोज़मर्रा की चुनोतियाँ आपके लिए बनी रह सकती हैं. बढ़ते हुए खर्चों का भी असर यह हो सकता है की आपको अपनी आर्थिक स्तिथि को सँभालने में थोडा सा और झूझना पड़े.
क्या करें – लोगों से तालमेल बनाया जा सकता है जिसके लिए आपको अपने विचारों को लोगों तक पहुँचाना होगा. इस सारे प्रयास में आपकी सूझबूझ भी काम आएगी जो आपके कामकाज को बढ़ावा देने में भी मदद करे. किसी प्यार के रिश्ते को बनाये रखने की भी कोशिश करनी होगी.
क्या न करें – अपने मन में किसी भी तरह के अविश्वास को जगह न बनाने दें. कहीं ऐसा न हो की जिन लोगों से आप जुड़ना चाह रहे हैं वही आपसे दूरियां बनाते चले जाएँ. उपाय – कर्क राशि वालों के लिए ख़ास उपाय यह है जी की आने वाले चार बुधवार को किसी भी मंदिर में जाएँ और दुर्गा माता की मूर्ती के आगे पूजा-अर्चना कर लें. कहने को तो यह आसान सा उपाय है लेकिन इस समय की रोज़मर्रा की बनी हुई मुश्किलों को सँभालने के लिए यह उपाय आपकी मदद कर सकता है.

सिंह (Leo) आपके मन का भटकाव आपकी आर्थिक मुश्किलों का कारण हो सकते है. कामकाज में भी ज्यादा पैसा लग रहा है और बढ़ते हुए खर्चों की वजह से भी मन परेशान है. क्या करें - निजी जीवन में अपनों की बढती हुई जरूरतों की वजह से आपके दबाव बढ़े हुए हैं, इसलिए अपनों को बहुत सारी चीज़ों को समझाना होगा ताकि उन्हें भी इस बात का अहसास हो सके की जरूरतों को बढ़ा लेने से मुश्किलें ही पैदा होती हैं, पर ऐसा करते हुए आपको अपनों के प्रति बहुत सारी विनम्रता भी अपनानी होगी.
क्या न करें – किसी प्यार के रिश्ते से जुड़ी छुपी हुई मुश्किलों को नज़रंदाज़ न करते चले जाएँ. सिर्फ यह न सोचें की सबकुछ ठीक है क्योंकि सबकुछ ठीक होने के बावजूद बहुत कुछ ऐसा है जिसे समझना और संभालना आपके लिए आसान नहीं.

कन्या (Virgo) कामकाज की स्तिथि ठीक होने के बावजूद बहुत सारी चुनोतियाँ दर्शा रही है. विचारों के न मिलने से भी अच्छी-भली स्तिथि में कमी आ सकती है जिस ओर थोड़ा सा ध्यान देना होगा.
क्या करें – अपने ज्ञान और अपनी क्षमताओं को उभारने का समय है क्योंकि उसी से आपकी अच्छाई उभरकर आएगी और लोग आपको बेहतर तरीके से समझ पाएंगे. वैसे भी यह समय ऐसा है जिसमें किसी भी ग़लतफहमी की वजह से किसी तकरार में पड़ते चले जाने से बचना होगा.
क्या न करें – उन लोगों के प्रति अपने मन में कोई अविश्वास न पैदा करें जो आपके लिए वैसे ही मददगार बने हुए हैं. निजी जीवन में अपनों से तालमेल बनाए रखें ताकि किसी भी छोटी बात को सँभालने में आपकी ओर से कोई कमी न रह जाए.

तुला (Libra) कामकाज के क्षेत्र में अपने मन को भटकाते चले जाना ठीक नहीं, क्योंकि ऐसा करने से आप अपने कामकाज की स्थिरता को कम करते चले जा रहे हैं और अपने लिए दबाव बढ़ाते चले रहे हैं, जबकि उस अच्छाई की ओर देखें जो कई रूप से आपके हालात को संभाले हुए हैं.
क्या करें – निजी जीवन की खुशियाँ बनी हुई हैं और पैसे की स्तिथि सम्भली हुई है. आप अपनों की हर तरह की जरूरतों को भी पूरा कर रहे हैं जो एक बहुत बड़ा आशीर्वाद है. इसी के चलते ज़िन्दगी की खुशियों को बनाये रखना ही आपकी कोशिश होनी चाहिए.
क्या न करें – अपने मन में कोई ऐसा द्वेष न रखें जिसका बुरा असर आपके रिश्तों पर पड़ना शुरू हो जाए. अपने दोस्तों को भी समझने की कोशिश करें और उनसे तालमेल बनाये रखें. रिश्तों के प्रति किसी भी तरह का अविश्वास पैदा करना कभी भी ठीक नहीं होता.

वृश्चिक (Scorpio) ज़िन्दगी ने आपके हालात को संभाले रखने में बहुत मदद की है पर इस समय रोज़मर्रा की मुश्किलें आपकी घर-परिवार की परेशानियों को दर्शा रही हैं जिस ओर आपको थोड़ा सा ध्यान देना होगा. दूसरों के नजरिये को समझने की भी कोशिश करनी होगी ताकि आपसी तालमेल बना रहे.
क्या करें – कामकाज के क्षेत्र में अपने प्रदर्शन को बढ़ाना होगा और आप देखेंगे की आपकी थोड़ी सी मेहनत आपको बड़ी सफलता देने में मदद करती चली जाए. ज़िन्दगी का यह पहलु ऐसा है जिसमें आपके अपनों का योगदान आपके लिए हर तरह से बना रहेगा.
क्या न करें – पैसे की स्तिथि ठीक है पर फिलहाल किसी बड़े निवेश के बारे में न सोचें. बेहतर यह होगा की अपनी आर्थिक स्तिथि को संभाले रखें. किसी प्यार के रिश्ते को बढ़ावा देने के लिए सिर्फ अपनी ही बात न कहते चले जाएँ क्योंकि किसी पर भी कोई दबाव बनाना इस समय ठीक नहीं होगा.

धनु (Sagittarius) निजी जीवन की खुशियाँ हर रूप से बनी हुई हैं पर कामकाज के क्षेत्र में व्यर्थ के तकरार पैदा हो सकते हैं जो किसी न किसी रूप से आपके नुकसान को दर्शायें, इसलिए बहुत सारी चीज़ों को एक साथ समझने की जरूरत है.
क्या करें – कई तरह के अच्छे विकल्प हैं आपके सामने जिसमें भाग्यशाली परिस्थितियां छुपी हुई हैं, पर किसी भी विकल्प को इस रूप से समझना होगा की वो आपकी कार्यक्षमताओं के अनुरूप हों तभी उस रास्ते को अपनाने की कोशिश करें.
क्या न करें – अपना भरोसा बनाये रखना अच्छी बात है पर अपने मन में किसी भी तरह का असमंजस बनाने से नुकसान भी हो सकता है, इसलिए अपने मन में बिठाई हुई हर तरह की चिंताओं को हटा दें ताकि हालात का आंकलन करने में आपकी ओर से कोई कमी न रहे.

मकर (Capricorn) लोग आपको सही रास्ते पर चलाने के लिए हर तरह से मदद करना चाह रहे हैं, पर आपके विचार बिखरे पड़े हैं, और ऐसा लगता है जैसे अपने पहले से अपने मन में फैसले कर रखे हैं.
क्या करें – अपने व्यवहार में थोड़ा सा लचीलापन लाना होगा ताकि आप किसी भी बात को पूरी तरह से समझ सकें. लोगों की आलोचना से भी आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा जिसके चलते आपकी शक्सियत में निखार आता चला जाए. कामकाज के क्षेत्र में कई ऐसे अच्छे विकल्प हैं जिसके बारे में सोचने से आपको फायदा हो सकता है.
क्या न करें – कोई ऐसी स्तिथि न बनने दें की कोई आपका गलत फायदा उठाता चला जाए और इसके चलते आपके लिए नुकसान की स्तिथि बनती चली जाए. काम से लाभ भी बना हुआ है और आर्थिक स्तिथि भी सम्भली हुई है पर अपनी आर्थिक स्तिथि को किसी भी वजह से बिखेरते चले जाना इस समय ठीक नहीं है.

कुम्भ (Aquarius) मन परेशान रहेगा तो आप अपनी ही बात कहना शुरू कर देंगे और उससे आपको नुकसान होगा. गलती भरा समय है इसलिए किसी को भी नाराज़ करना इस समय ठीक नहीं होगा.
क्या करें – कोई भी ऐसा फैसला करने से बचना होगा जो लोगों को आपसे दूर कर दे, इस बात को समझ लें की अपने व्यवहार को कठोर करते चले जाने से नुकसान ही होता है इसलिए भी रिश्तों का तालमेल बनाए रखने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – पैसे की स्तिथि को संभाले रखने में कोई कमी न रखें. ज्यादा पैसा जुटा लेने की वजह से कहीं आप अपना नुकसान न करते चले जाएँ, इसलिए कामकाज के प्रति बनती हुई प्राथमिकता को समझने में कोई गलती न करें.

मीन (Pisces) बहुत कुछ सीखने और समझने का समय है पर उससे भी बड़ी बात यह है की रिश्तों को हर तरह से संभाले रखना है. घर-परिवार की खुशियों को बनाये रखने के लिए यह बहुत जरूरी होगा.
क्या करें – लाभ बना हुआ है और आर्थिक स्तिथि संभली हुई है पर पैसे का लेनदेन सूझबूझ से करना होगा. अपने समृद्धि के दौर में अपनों को साथ लेकर चलना बहुत जरूरी है.

क्या न करें – कामकाज की स्तिथि बेहतर हो रही है उसे किसी भी वजह से कम न होने दें, इसलिए उस आशीर्वाद को समझें जो आपके लिए भरपूर बना हुआ है, इसलिए कुछ भी ऐसा न करें जिसमें आपके साथी-सहयोगियों आपसे किनारा करते चले जाएँ.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.