Personal appointments

at Dwarka and Gurgaon

are on hold

You can however consult

Jyotishguru Deepak Kapoor

over phone

Place your order for

“Astrotalk”

at www.Jyotishguru .com

Saturday, February 15, 2020

Saturday 15th February 2020, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

आज 15 फरवरी 2020 है और शनिवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2076 है और शक संवत 1941
फाल्गुन मास चल रहा है और कृष्ण पक्ष
सप्तमी तिथि है शाम 04 बजकर 29 मिनट तक और उसके बाद अष्टमी तिथि है।
विशाखा नक्षत्र है देर रात 05 बजकर 09 मिनट तक और उसके बाद अनुराधा नक्षत्र है।
चंद्रमा चल रहे हैं तुला राशि मे और चंद्रमा वृश्चिक राशि मे प्रवेश करेंगे रात 11 बजकर 18 मिनट पर।
आज मासिक कलाष्टमी व्रत है। नाथ द्वारा राजस्थान मे मनाए जाने वाला श्री नाथ जी महोत्सव है और व्यतिपात महापात है सुबह 07 बजकर 19 मिनट से दोपहर 12 बजकर 06 मिनट तक।

मेष (Aries) रिश्तों से जुड़ा बहुत सारा उतार-चढ़ाव है। आपको लग रहा है की सबकुछ ठीक है और परिस्थितियाँ खुशगवार हैं, पर कहीं न कहीं आप लोगों से फासले बना रहे हैं, या लोग आपसे फासले बना रहे हैं और अगर ऐसा हो रहा है तो आपको अपने व्ययवहार पर काम करने की जरूरत है।   
क्या करें – कामकाज से जुड़ी व्यस्तता बनी हुई है जिसके चलते आपको बड़ी सफलता मिल सकती है, पर पैसे के प्रति किसी भी तरह की लापरवाही से बचना होगा ताकि नुकसान से बचा जा सके। कोई भी नया रास्ता अपनाने से पहले एक बार फिर सोच लेने की जरूरत पड़ेगी।
क्या न करें – न तो काम या कारोबार मे ज्यादा पैसा लगाने की कोशिश करें और न ही कोई उसमें कोई ऐसा बदलाव करें जो आपके नुकसान का कारण बनता चल जाए। और आगे चलकर किसी भी नुकसान का बुरा असर अपने रिश्तों पर भी बिल्कुल न पड़ने दें।

वृषभ (Taurus) अपने दोस्तों से मनमुटाव बनाते चले जाना ठीक नहीं। जबकि आपको ऐसा लग रहा है की आप उनके लिए बहुत कर रहे हैं, सच्चाई यह है की लोग आपसे दूर हटते चले जा रहे हैं और यह इस समय की सबसे बड़ी परेशानी है।
क्या करें – भाग्यशाली परिस्थतियाँ अपनी जगह हो सकती हैं पर फिर भी बहुत सारी चीजों को समझने की और संभालने की जरूरत पड़ सकती है। अगर आपकी ही मेहनत मे कमी आ जाए तो कोई भी कामकाज की स्तिथि कमजोर पड़ सकती है। अपनी चुनोतीयों को संभालना है तो लोगों से तालमेल तो बिठाना ही पड़ेगा।
क्या न करें – पैसे को लेकर अपने मन मे कोई ऐसी तसल्ली न बनाएं की आपका नुकसान होता चला जाए। उधार देकर या लेकर अपने पैसे को कहीं फँसाते चले जाना इस समय ठीक नहीं होगा।

मिथुन (Gemini) रिश्तों की अच्छाई बनी हुई है जो आपको अपनों से जोड़े हुए है, पर कामकाज से जुड़े आपके साथी-सहयोगी आपके विचारों को समझ न पाएं ऐसा हो सकता है, इसलिए किसी भी तरह के तकरार की स्थिति से भी बचने की जरूरत है।
क्या करें – रुकावटें कई वजह से बन सकती हैं, उसका एक बड़ा कारण यह है की आप बिना सोचे समझे बड़े कदम उठाना चाह रहे हैं, हो सकता है आपके पक्ष मे हालात बनने मे फिर भी कोई न कोई कमी रह जाए, जिस ओर ध्यान देने की जरूरत पड़ सकती है।
क्या न करें – अपनी इच्छाओं को जरूरत से ज्यादा बढ़ाकर कामकाज मे कोई ऐसा परिवर्तन न करें जो नुकसान का कारण बन जाए। अगर दिल से उठती हुई आवाज आपको कुछ समझाना चाह रही है तो किसी नए रास्ते पर चलने की कोशिश बिल्कुल न करें।

कर्क (Cancer) निजी जीवन की खुशियां बनाए रखने के लिए आपने बहुत सारे प्रयत्न किए हैं, पर आप की अच्छाई के बावजूद कुछ न कुछ ऐसा हो जाता है जो आपकी मुश्किलों का कारण बन जाए। किसी प्यार के रिश्ते से जुड़ा उतार-चढ़ाव भी उन मुश्किलों की वजह हो सकता है।
क्या करें – लोगों की हर बात को समझने की कोशिश करनी होगी और उन्हें पूरा सम्मान देना होगा। किसी भी कठिन समय में अपने लिए बचाव बनाना बहुत जरूरी हो जाता है, इसलिए भी लोगों की अच्छाई के पीछे क्या चल रहा है उस गहराई तक पहुँचने की कोशिश करनी होगी।
क्या न करें – पैसे की स्तिथि ठीक है पर पैसे से जुड़े फैसलों को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही न दिखाएं। अपने बढ़ते हुए खर्चों को भी किसी बड़े नुकसान का कारण बिल्कुल न बनने दें।

सिंह (Leo) किसी भी यात्रा या बदलाव में सतर्कता बरतने की जरूरत पड़ सकती है। रिश्तों के प्रति अपनी इच्छाओं को बढ़ाते चले जाने से भी ज़िंदगी की बाकी प्राथमिकताओं पर भी बुरा असर पड़ सकता है।
क्या करें – मुश्किलों का एक कारण यह है की लोगों के विचार आपके विचारों से नहीं मिल रहे और दूसरा कारण यह है की आपकी सेहत आपकी चिंताओं को बढ़ाती चली जा रही है, इसलिए हर रूप से धैर्य बनाए रखते हुए अपना खयाल रखना होगा।   
क्या न करें – आपकी मेहनत मे बहुत सारी कमी आ चुकी है इसलिए सुधार लाने की बहुत सारी गुंजाइश है। कामकाज से जुड़े दबाव भी अपनी मेहनत से ही संभलेंगे, इसका कोई और विकल्प नहीं है।

कन्या (Virgo) आर्थिक स्तिथि भी संभली हुई है और घर-परिवार की खुशियां भी बनी हुई हैं। रिश्तों के प्रति आपकी जागरूकता बनाए रखनी होगी ताकि कोई भी छोटी बात मुश्किलों को न बढ़ाती चली जाए।
क्या करें – आपका सारा झुकाव किसी प्यार के रिश्ते की ओर बना हुआ है और आप उसी में समय लगा रहे हैं। इसका बुरा असर यह हो रहा है की कामकाज को संभालने मे कमियाँ नजर आ रही हैं जिस ओर थोड़ा सा ध्यान तो देना ही होगा।
क्या न करें – ऐसा न सोचें की लोग ही आपकी सहायता करते चले जाएंगे और तकदीर ही सबकुछ संभाल लेगी,  क्योंकि ऐसा करना भी हानिकारक हो सकता है। लोगों के प्रति अपने व्ययवहार को बिगाड़ते चले जाना भी ठीक नहीं है।

तुला (Libra) घर से जुड़े हालात बेहतर हो रहे हैं पर लोगों से उलझन पैदा होती चली जा रही है, इसका एक कारण यह भी है की आपने लोगों से तनाव बना रखा है। सबकुछ समझते हुए और जानते हुए भी गलती हो सकती है।
क्या करें – निजी जीवन से जुड़े मुद्दों को बहुत व्यावहारिकता से समझना होगा और पैसे के लेनदेन मे किसी भी तरह की लापरवाही से भी बचना होगा। ऐसा लगता है जैसे यह समय आपकी अच्छाई का इम्तेहान ले रहा है।
क्या न करें – रिश्तों की अच्छी-भली स्तिथि को किसी भी वजह से कमजोर न करें, खासकर अपनी इच्छाओं को जरूरत से ज्यादा न बढ़ाएं। किसी भी इच्छा को इतना न बढ़ाएं की लोग आपसे दूरियाँ बनानी शुरू कर दें।

वृश्चिक (Scorpio) आप बहुत दूर का सोचकर परेशान होते चले जा रहे हैं जबकि यह समय आज मे जीने के लिए आपको प्रोत्साहित कर रहा है, क्योंकि आज का सुख और सुकून आपकी ज़िंदगी के मायने बदल सकता है।
क्या करें – हालात कैसे भी हों पर जिस काम से जुड़े हुए हैं उसमें अपनी लगन बनाए रखनी होगी। अपनी मेहनत को बनाए रखने का और इस्तेमाल करने का समय है, उसी से रिश्तों के प्रति बनती हुई किसी भी तरह की गलती से बचा जा सके।
क्या न करें – पढ़ाई को लेकर दूरस्थान से जुड़े जो भी विकल्प हैं उन्हें पूरी तरह से खारिज न करें। अगर किसी यात्रा या बदलाव का विचार बने तो उसके बारे में भी एक बार सोच लें। हर रास्ते को कठिन मान लेना भी ठीक नहीं है।

धनु (Sagittarius) खुशियों भरा समय है क्योंकि आपका भरोसा आपसे बहुत कुछ करवा रहा है। निजी जीवन की खुशियां बनी हुई हैं पर साथ ही साथ गलती करते चले जाने के भी आसार बने हुए हैं। रिश्तों से जुड़ी हर तरह की गलती से बचने की जरूरत है।
क्या करें – कई तरह के अच्छे विकल्प हैं आपके सामने जो आपकी आर्थिक स्थिति को बढ़ावा दें, इस वजह से किसी यात्रा का विचार भी बन सकता है, पर कोशिश यह करनी होगी की अपनी बचत को बढ़ावा दिया जा सके जो भविष्य मे आपके काम आए और दूर तक आपका साथ निभाए।
क्या न करें – किसी जमीन ज़्यादाद मे निवेश का कोई मौका मिले तो उसे हाथ से न जाने दें, ऐसा करते हुए अगर पैसे की कमी लगे तो पैसे को जुटा लें ताकि अपनी इच्छाओं को अंजाम दिया जा सके। घर-परिवार में अपनों की सेहत को नज़रंदाज़ न करें, अगर सबकुछ ठीक लग रहा है तो भी जांच करवा लेने में कोई हर्ज़ नहीं हैl

मकर (Capricorn) कामकाज से जुड़े बहुत से बनते बिगड़ते विचार हैं पर लोगों के सहयोग से भी आप की उत्सुकता बढ़ी हुई है, फिर भी कोई कदम उठाने से पहले यह सोचना जरूरी है की उससे क्या लाभ होगा या क्या हानी होगी।
क्या करें – आपका भरोसा बढ़ा हुआ है और आप कई तरह के विकल्प टटोल रहे हैं पर ऐसा करते हुए थोड़ी सी सूझबूझ भी अपनाने की जरूरत है। किसी बदलाव का सोचने से पहले भी थोड़ा सा रुक जाना आपके हित मे हो सकता है।
क्या न करें – अपने आसपास के लोगों की वजह से जो आपको प्रेरणा मिल रही है उसे कम न समझें और जो भी हालात बन रहे हैं उसके चलते कुछ नया सीखने की कोशिश कर लें। हो सकता है वही रास्ता आगे चलकर आपकी खुशियों का कारण बने।

उपाय – मकर राशि वालों के लिए खास उपाय यह है जी आने वाले चार बृहस्पतिवार को किसी भी मंदिर या पूजा स्थल पर जाएँ। सही फैसले करने के लिए और खुद को नुकसान से बचाकर चलाने के लिए यह उपाय आपकी मदद कर सकता है। वैसे भी किसी उपाय का क्या मतलब है यह समझना चाहिए, हर समय कोई न कोई चुनोती दिखाता है और अगर उस समय की चुनोतियाँ ही संभली रहें तो ज़िंदगी का कोई भी रास्ता सुगम हो सकता है।

कुम्भ (Aquarius) आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूत करता हुआ समय है जिसके चलते तकदीर आपका साथ निभा रही है। लोग भी आपकी सहायता कर रहे हैं और रिश्ते भी संभले हुए हैं।
क्या करें – बहुत सारी अच्छाइयों के बावजूद यह गलती भरा समय है जिस ओर थोड़ा सा ध्यान देना होगा। नुकसान सिर्फ पैसे का नहीं होता बल्कि आपकी मानसिकता का और आपके अच्छे-भले रिश्तों का भी होता है,
क्या न करें – रिश्तों के प्रति लापरवाही बरत कर खुद कर लोगों से दूर करते चले जाना ठीक नहीं है। हर मुश्किल में समाधान ढूँढने की कोशिश करें, तो कुछ भी गलत नहीं होगा।

मीन (Pisces) रिश्तों को लेकर आपका मन बुझा हुआ है और कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा। आपके मन मे बैठा हुआ अविश्वास भी आपको लोगों से दूर कर रहा है, जबकि सच्चाई यह है की थोड़ा सा भरोसा बनाए रखने की जरूरत है।
क्या करें – कामकाज के प्रति बनते हुए अपने समर्पण से प्रेरणा लेनी होगी और भाग्यशाली परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाने की कोशिश भी करनी होगी। समस्या यह है की लोग आपसे दूरियाँ बना रहे हैं और इस बात को भी समय रहते संभालने की कोशिश करनी होगी।

क्या न करें – हर अच्छी-भली स्थिति को रुकावट मान लेना भी ठीक नहीं है। अगर रिश्तों में कोई तकरार है तो ऐसा न सोचें की सबकुछ बिगड़ा हुआ है क्योंकि ऐसा सोचकर आप अपने अच्छे-भले हालात को भी कमजोर करते चले जा रहे हैं और इस समय वही ठीक नहीं है। 

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.