Speak to Jyotishguru Deepak Kapoor

Place your order for Astrotalk at www.Jyotishguru.com

Friday, December 22, 2017

Friday 22nd December 2017, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

मेष (Aries) – काम के प्रति रुझान भी है पर चिंताएं भी बहुत हैं. कैसे होगा, कब होगा? यह कब, क्यों और कहाँ के सवाल हमेशा आपके मन में खड़े हैं.
क्या करें – अपने मन से काम कारोबार की सारी चिंताओं को हटाकर आगे बढने की कोशिश करनी होगी, क्योंकि यह बहुत सारे विचार आपने खुद अपने मन में बिठा रखे हैं जो खुद की बनाई हुए चिंताओं का ही एक स्वरुप है. थोडा सा आशावादी नजरिया तो अपनाना ही पड़ेगा.
क्या न करें – अपने कामकाज में अपनी भावुकता के चलते कमियां न निकालें. सिर्फ यह न सोचते चले जाएँ की किस चीज़ से कितना लाभ होगा.

वृषभ (Taurus) – हालात उतने मददगार नहीं हैं जितने की आप चाह रहे हैं. यही वजह है की कुछ न कुछ परेशानी बनी रहती है मन में जो आपको सुकून नहीं दे रही. कुछ हद तक गलतियों भरा समय है इसलिए बचकर चलना होगा.
क्या करें – तकदीर को कोसने से बचना होगा, बल्कि अपने आसपास की अच्छाई को समझकर अपने हालात को बेहतर करने की कोशिश करनी होगी. यही ज्योतिषिय मार्गदर्शन का एक आधार है की किसी भी कमजोर क्षेत्र को सुधारने के लिए उस ओर अपने प्रयास बढ़ा दिए जाएँ.
क्या न करें – कामकाज से जुड़े दबाव के चलते आप कोई गलती न कर जाएँ. वैसे भी लोगों को किसी भी वजह से नाराज़ कर लेना भी आपकी ही गलती होगी.

मिथुन (Gemini) – छुपी हुई चिंताओं के बारे में सोचते रहेंगे तो मन परेशान ही रहेगा और ऐसे में गलतफ़हमी होने का अंदेशा आपके लिए बना रहेगा इसलिए थोडा सा अपने मन को शांत रखकर चलें.
क्या करें – हर चीज़ पर शक करते चले जाने से तो बचना ही होगा. अगर कोई चीज़ परेशान भी कर रही है तो भी उसमे कुछ न कुछ अच्छाई ढूँढने की कोशिश करें ताकि आप अपने लिए एक सही रास्ता बना सकें.
क्या न करें – ज़िन्दगी की रुकावटें नुकसान दे सकती हैं, पर अपने मन की चिंताओं को बढाकर अपने नुकसान को बुलावा न दें. हर परेशानी की स्तिथि में उस आशीर्वाद को भी समझ लें जो आपको बचाना चाह रहा है ताकि गलती न हो.

कर्क (Cancer) – लोगों की बात को समझना और लोगों के लिए कुछ बेहतर करना यह आपकी कोशिश होनी चाहिए. ऐसा करने से परेशानियाँ पूरी तरह से दूर नहीं होंगी लेकिन परेशानियों को समझने में मदद जरुर मिल जाएगी.
क्या करें – लोगों की बात को समझने की और लोगों का सम्मान करने की कोशिश करनी होगी. किसी भी ऐसी बात को कहने से बचना होगा जो लोगों से आपकी दूरियां बना दे.
क्या न करें – चाहे घर-परिवार में आपके प्रियजन हों या आपके साथी सहयोगी, किसी से भी मतभेद को बढ़ाएं नहीं. पैसे को लेकर भी किसी तरह के झगडे में इस समय बिलकुल न पड़ें.

सिंह (Leo) – सेहत से जुड़ी परेशानियाँ बनी रह सकती हैं और कोई प्यार का रिश्ता भी किसी न किसी वजह से बिगड़ता चला जाए ऐसा हो सकता है. आपको अपनी आदतों को सुधारने की कोशिश करनी होगी, जिसमे व्यर्थ में चिंता लगाने की आदत भी बहुत ज्यादा है.
क्या करें – किसी प्यार के रिश्ते की अच्छाई को समझेंगे तो ज़िन्दगी में खुशियाँ बनी रहेंगी. वैसे भी आपका रुझान ऐसा है की आप किसी का दिल जीतना चाह रहे हैं. ऐसे में अपनी अच्छाई और ईमानदारी बनाये रखनी होगी.
क्या न करें – किसी भी बात को समझने में कोई गलती न करें. अगर कोई बात नहीं समझ में आ रही तो भी व्यर्थ में लोगों से उलझते न चले जाएँ.

कन्या (Virgo) – रिश्तों की ओर ध्यान देना इस समय की प्राथमिकता होनी चाहिए. घर-परिवार की खुशियाँ ऐसे ही बनी रहें तो लोगों से तालमेल बनाये रखना भी आसान हो जायेगा.
क्या करें – अपनी बात इस रूप से कहें की वो लोगों को साफ़ और स्पष्ट समझ में आये. मन में कुछ रखने से और जुबान पर कुछ ओर लाने से आपको बचना ही होगा.
क्या न करें – किसी निवेश के विचार को लेकर या पैसे के लेनदेन को लेकर किसी परेशानी को बुलावा न दें. किसी से भी झगडे में बिलकुल न पड़ें. विनम्रता बनाये रखने से लाभ जरुर होगा.

तुला (Libra) – घर-परिवार की चिंताएं बहुत हैं मन में पर अच्छी बात यह है की आप अपनों के लिए बहुत कुछ करना चाह रहे हैं. ऐसे में चिंता बनी रहना स्वाभाविक है क्योंकि यह इंसानी फितरत है जो हमें कुछ न कुछ चिंताओं में डाले रखती है.
क्या करें – चिंताएं हटा दें और खुश रहने की कोशिश करें. व्यर्थ में नेगेटिव सोचने से तो बचना ही होगा.
क्या न करें – अपनी कोशिशों को कम न होने दें. मेहनत करने से जो हासिल हो सकता है वो किसी ओर चीज़ में नहीं है. इसलिए आगे बढने का रास्ता तलाश लें.

वृश्चिक (Scorpio) – आपको इस बात का आभास है की कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती और यही वजह है की आपकी कोशिशें हर तरह से मज़बूत हैं. कामकाज से भी लाभ सुनिश्चित है और लगातार बना हुआ है.
क्या करें – अपनी मेहनत को अपने काम में जोड़े रखें और ऐसे में घर-परिवार में अपनों की आकाँक्षाओं को भी पूरा करने की कोशिश कर लें. अगर सलाह मशवरा करें तो उस सलाह को मान भी लें.
क्या न करें – अपने भरोसे को बहुत ऊंचे स्तर का बनाये रखें. कहीं ऐसा न हो की आपकी अपनी कोशिशें ही सवालों के घेरे में आ जाएँ, इसलिए भी ज़ल्दबाज़ी में कोई बड़ा कदम उठाने से बचें.

धनु (Sagittarius) – पैसे की स्तिथि ठीक होने के बावजूद आप अपनी बातचीत में असंतोष प्रकट करते चले जा रहे हैं. ऐसा करने से लोगों से व्यर्थ के फासले बढ़ भी सकते हैं.
क्या करें – किसी से भी कोई चुभती हुई बात करने से बचना होगा. अनजाने में भी कोई गलतफ़हमी उत्पन्न हो जाए तो मुश्किल ही होगी.
क्या न करें – आर्थिक दृष्टिकोण से समय अच्छा होने का मतलब यह नहीं है की आप बाकी चीज़ों को खतरे में डालते चले जाएँ. लोगों की बात को न समझना भी इस समय गलती होगी, इसलिए ऐसा कुछ न करें जो आपके कामकाज में या आपके साथी सहयोगियों से कोई दिक्कत पैदा कर दे.

मकर (Capricorn) – ज़िन्दगी में लोगों से तालमेल बना रहे तो इंसान बड़े से बड़ा कदम उठा लेता है. आपका तालमेल तो बना हुआ है पर आपको कोई बड़े कदम उठाने से फिर भी बचना ही होगा. वैसे भी आप लोगों पर इस समय भरोसा नहीं कर पा रहे हैं.
क्या करें – खुद पर भी भरोसा करें और लोगों को समझने की भी कोशिश करें. हो सकता है लोग आपकी तरफदारी इसलिए कर रहे हैं क्योंकि वो आपके लिए अच्छा सोचते हैं.
क्या न करें – काम या कारोबार को लेकर कोई बड़ा फैसला न करें. पैसे को भी कहीं फंसाते न चले जाएँ. किसी भी मुश्किल भरी स्तिथि को पूरी तरह न समझना भी एक तरह की गलती ही है.

कुम्भ (Aquarius) – अति भावुकता भी ठीक नहीं है. ऐसे में इंसान घबरा जाए तो गलती होने का अंदेशा भी बढ़ जाता है.
क्या करें – थोडा सा आशावादी नजरिया तो अपनाना ही पड़ेगा तभी जाकर आप अपने भटके हुए विचारों को संभाल पाएंगे. सिर्फ ऐसा न सोचते चले जाएँ की लोग क्या सोचते हैं.
क्या न करें – किसी बड़े धनलाभ की उम्मीद में आप लोगों की बातों में न आ जाएँ, इसलिए भी पैसे को आधार बनाकर आप कोई बड़ा कदम न उठायें. अपने दिल की आवाज़ को सुनें, शायद वो आपसे कुछ कहना चाह रही है.

मीन (Pisces) – पैसे की स्तिथि अच्छी है पर बचत नहीं हो पा रही, आपकी बढती हुई जरूरतों का भी यह असर हो सकता है क्योंकि पैसे से जुड़े दबाव बने रहें यह बहुत हद तक सम्भव है.
क्या करें – अपनी इच्छाओं और आकाँक्षाओं को समझना होगा. घर-परिवार में रिश्तों से जुड़े हुए उतार-चढ़ाव से भी बचना होगा ताकि ज़िन्दगी का सुकून बना रहे.
क्या न करें – कामकाज से जुड़े फैसलों में गलती न करें. यह चुनोती भरा समय है जिसके चलते हर तरह की रुकावट आपके सामने आ सकती है. ऐसे में सिर्फ तकदीर के भरोसे न चलें क्योंकि उससे कुछ होने वाला नहीं है.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.