Consult

Jyotishguru Deepak Kapoor

at

Gurgaon

Send SMS to 9868463900

Giving your name

&

mobile number

Tuesday, July 16, 2019

Tuesday 16th July 2019, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

आज 16 जुलाई 2019 है और मंगलवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2076 है और शक संवत 1941
आषाढ़ मास चल रहा है और शुक्ल पक्ष
पूर्णिमा है देर रात 03 बजकर 08 मिनट तक और उसके बाद सावन मास की कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि है.
पूर्व-आषाढ़ नक्षत्र है रात 08 बजकर 43 मिनट तक और उसके बाद उत्तर-आषाढ़ नक्षत्र है.
चंद्रमा चल रहे हैं धनु राशि में और चंद्रमा मकर राशि में प्रवेश करेंगे देर रात 03 बजकर 15 मिनट पर.
आज गुरु पूर्णिमा है. श्री सत्यनारायण व्रत है. श्री शिव शयन उत्सव है.
सूर्य कर्क राशि में प्रवेश कर रहे है देर रात 04 बजकर 33 मिनट पर अतः सक्रांति का पुण्य काल 17 जुलाई को मनाया जाएगा.
आपके तारे का सक्रांति स्पेशल एपिसोड जिसमे आने वाले एक महीने का राशिफल बताया जाता है वो भी कल यानी 17 जुलाई को ही दिखाया जाएगा.
आज भद्रा है दोपहर 02 बजकर 25 मिनट तक. व्यास पूजा है. वायु परीक्षा है.
जैन सम्प्रदाय के अष्टाणिका व्रत समाप्त हो रहे हैं. कोकिला व्रत प्रारंभ हो रहे हैं. जया व्रत है. आज खंड ग्रास चन्द्र ग्रहण है और तेरापंथ स्थापना दिवस है.

मेष (Aries) आप कई तरह के नए विकल्प टटोल रहे हैं पर अभी भी संभलकर चलने की जरूरत है क्योंकि किसी भी नए काम में छुपा हुआ नुकसान हो सकता है, इसलिए अपनी परेशानियों को बुलावा देने की बजाए यथास्थिति बनाए रखने की जरूरत है.
क्या करें – अपने काम या कारोबार में भरोसा बनाये रखना होगा क्योंकि उसी भरोसे से आपका काम बढेगा और आपकी आर्थिक स्तिथि भी बेहतर होती चली जाएगी. किसी भी प्रयास में नियमित होते चले जाएंगे तो उसमें सफलता जरूर मिलेगी.
क्या न करें – अपने से वरिष्ठ लोगों के खिलाफ न जाएँ और अगर वो आपकी बात को नहीं समझ पा रहे तो भी आप अपने हालात को बिगड़ने न दें. बचाव बनाये रखने में किसी भी तरह की कमी बिलकुल न रखें.

वृषभ (Taurus) घर-परिवार का सुकून बनाये रखने के लिए किसी भी तरह के तकरार से बचना होगा और अपने मन में बिठाई हुई नकारात्मकता को भी दूर करने की कोशिश करनी होगी. कामकाज से जुड़े दबाव को संभालना तो पड़ेगा ही.
क्या करें – आपकी पीठ पीछे क्या हो रहा है इस बात से दुखी होने की बजाए इस बात से कुछ सीखने की कोशिश करनी होगी. हर हाल में अगर इंसान अच्छाईयों को देखे तो उन अच्छाईयों को पाना भी आसान हो जाता है. आपको भी इस रूप से सोचना होगा.
क्या न करें – आर्थिक स्तिथि ठीक है पर लोगों की अनुचित मांगों को पूरा करने की कोशिश न करें क्योंकि लोगों की बढती हुई उम्मीदों का असर आपकी बचत पर पड़ सकता है.

मिथुन (Gemini) अपनी कोशिशों को बढाने के साथ-साथ आप कई तरह के विकल्प टटोल रहे हैं जिसमें दूरस्थान से जुड़े विचार भी शामिल हो सकते हैं और आपकी आर्थिक स्तिथि पर भी दबाव बढ़ते हुए नज़र आ रहे है.
क्या करें – लापरवाही से कही हुई बात किसी का दिल दुख सकती है और इस वजह से लोगों से दूरियां बढ़ सकती हैं. कोशिश यह करनी होगी की आप हालात को संभाले रखें और लोगों से बनती हुई उलझनों से बचकर निकल जाएँ.
क्या न करें – कामकाज से बड़े लाभ की उम्मीद न लगायें और ऐसा करके आप अपने खर्चों को पहले से कहीं बढ़ा न लें.

कर्क (Cancer) किसी निवेश के प्रयास में आपका नुकसान हो सकता है. किसी बात को पूरी तरह से समझे बिना आपसे गलती भी हो सकती है. असमंजस भरा समय है जिसमें विचारों के मतभेद में पड़ने से बचना होगा.
क्या करें – लोगों के प्रति आलोचनात्मक रेवेया बनाये रखने से मुश्किलें पैदा हो सकती हैं इसलिए लोगों से जुड़ने के साथ-साथ लोगों की अच्छाई को समझने की कोशिश करनी होगी, तब जाकर बात पकड़ में आएगी.
क्या न करें – पढाई-लिखाई की कमियों का बुरा असर अपने भविष्य पर बिलकुल न पड़ने दें इसलिए सिर्फ बदलाव का न सोचते चले जाएँ. जिस रास्ते पर आपने अपने कदम बढ़ा लिए हैं उससे पीछे हटने की कोशिश बिलकुल न करें.

सिंह (Leo) काम से लाभ अच्छा है और आपकी मेहनत का असर है की आप कुछ बेहतर करने का प्रयास कर रहे हैं पर पारिवारिक रिश्तों को संभाले रखने में बहुत सारी कमी रह सकती है. काम या कारोबार से जो भी लाभ बन रहा है उसे भी बहुत सूझबूझ से ही संभालना होगा.
क्या करें – रिश्तों के प्रति सद्भावना बनाये रखना बहुत जरूरी होगा. किसी भी तरह के मतभेद को बढाते चले जाने से भी बचना होगा. ज़िन्दगी की चुनोतियों को एक-एक करके ही संभाला जा सकेगा.
क्या न करें – पारिवारिक मुद्दों में किसी भी तरह की लापरवाही बिलकुल न बरतें. अगर कोई पहले से रुकावटें रही हैं तो उन्हें भी बार-बार कुरेदते न चले जाएँ. मुसीबतों को व्यर्थ में बुलावा देते चले जाना भी ठीक नहीं है.

कन्या (Virgo) कामकाज की स्तिथि इसलिए ठीक है क्योंकि हालात मददगार हैं और लोग आपको बहुत पैनी दृष्टि से देख रहे हैं. आपकी ज़रा सी गलती या लापरवाही का असर नुकसान के रूप में उभरकर आ सकता है, इसलिए अपने अच्छे-भले हालात को बनाये रखना बहुत जरूरी होगा.
क्या करें – निजी जीवन की खुशियों को बनाये रखने के लिए प्रयत्न करने होंगे, पर अपनों की जरूरतों को पूरा करने के लिए भी अपने भरोसे को जगाए रखना होगा. अपनों की जरूरतो को पूरा करने के लिए किसी पैसे के लेनदेन में पड़ने से बचना होगा.
क्या न करें – लोगों की अच्छाई आपके लिए बनी रहेगी पर उस अच्छाई से हो सकता है आपको कोई फायदा न मिल पाए इसलिए उस अच्छाई के पीछे क्या मंशा है उसे समझने में कोई गलती बिलकुल न करें.

तुला (Libra) आर्थिक स्तिथि भी ठीक है और हालात भी आपकी मदद कर रहे हैं, पर रोज़मर्रा की चुनोतियाँ हो सकती हैं जिसकी वजह से आपके मन की घबराहट बनी रहे. यह ऐसी सच्चाई है जिसे कबूल करने में ही फायदा है.
क्या करें – काम से प्रेरणा लेकर कुछ बेहतर करने की कोशिश करनी होगी पर ऐसा करने के लिए अपने मन में बिठाई हुई घबराहट को दूर करना होगा, तभी जाकर आपकी अच्छाई पूरी तरह से उभरकर आएगी जिसका फायदा धनलाभ के रूप में आपके लिए बन पायेगा.
क्या न करें – किसी ऐसे तकरार में न पड़ें जिसके बुरा असर आपकी बचत पर आए या आप कोई ऐसी बात कहते चले जाएँ जो उस तकरार को ही बढ़ाता जाए, इसलिए अपनी सूझबूझ के बावजूद कोई गलती करते चले जाना भी ठीक नहीं है.

वृश्चिक (Scorpio) लोग आपके खिलाफ होते चले जाएंगे तो उसका बुरा असर आपके कामकाज पर पड़ेगा इसलिए अपने अंदर बहुत सारी सहनशीलता लानी होगी ताकि किसी भी तरह की स्तिथि को संभालना आसान हो जाए.
क्या करें – यह समय ही कुछ ऐसा है जो आपको उकसा रहा है और आपको गुस्सा दिला रहा है. उसमें कुछ कारण वाजिब हो सकते हैं पर बहुत सारे कारण ऐसे हैं जो आपके मन के बनाये हुए हैं. ऐसे में अपने मन में बिठाई हुई परेशानियों को थाम लेना बहुत जरूरी है.
क्या न करें – किसी ऐसे विकल्प को बढ़ावा न दें जिसके लिए आप अभी तैयार नहीं हैं. मुश्किलें हैं इसलिए किसी पर आँख बंद करके भरोसा करना भी ठीक नहीं है. आपकी सूझबूझ के बावजूद यह गलतियों भरा समय है.

धनु (Sagittarius) रिश्तों को लेकर थोड़ा सा कठिन समय है और उसमे बहुत सारी कमियां आपकी ओर से नजर आ रही हैं. अपनों पर भरोसा करेंगे तभी आप उनके नजरिये को भी भलीभांति समझ पाएंगे.
क्या करें – पैसे की स्तिथि ठीक है पर किसी भी फैसले में गलती करते चले जाने से बचना होगा. अगर कोई गलती बार-बार होती चली जा रही है तो यह भी ऐसा मुद्दा है जिस ओर आपको ध्यान तो देना ही पड़ेगा.
क्या न करें – किसी ऐसे परिवर्तन का विचार न बनाएं जिससे कोई लाभ होने वाला नहीं है बल्कि उस प्रयास में अगर लोग ही आपके खिलाफ होते चलते जाएंगे तो और भी नुकसान होगा. अपने कामकाज से जुड़े दबाव की वजह से अपने नुकसान को बढ़ा लेना भी ठीक नहीं है.

उपाय – धनु राशि वालों के लिए ख़ास उपाय यह है जी की आने वाले चार शुक्रवार को किसी भी मंदिर में जाएँ और लक्ष्मी माता की मूर्ति के आगे माथा टेक लें. अच्छे-भले हालात में भी कोई न कोई चुनोतियाँ छुपी हुई होती हैं और उन्हीं चुनोतियों को संभाल लेना भी बहुत जरूरी है.

मकर (Capricorn) अच्छे-भले हालात होने के बावजूद भी बहुत सारी कमियां हैं. लोगों की नाराजगियों की वजह से भी आपकी परेशानियाँ बढ़ सकती है, पर अपने मन को उचाट करके भी आप लोगों से फासले बनाते चले जाएँ ऐसा हो सकता है.
क्या करें – नुकसान के बहुत सारे कारण है. कामकाज से जुड़े मतभेद भी एक कारण हो सकता है. ऐसे में अपने प्रदर्शन को बहुत ऊंचे स्तर का बनाये रखने की भी जरूरत है.
क्या न करें – अपनी आमदनी को किसी भी तरह के खतरे में डालना ठीक नहीं है, क्योंकि ज़ल्दबाज़ी में फैसले करने से नुकसान हो सकता है. किसी की बातों में आकर आप अपने पैसे को कहीं फंसाते न चले जाएँ.

कुम्भ (Aquarius) हालात सुखद हैं और लोग भी आपके लिए हर तरह से मददगार हैं. आर्थिक स्तिथि भी इसलिए ठीक है क्योंकि आपकी बढती हुई जरूरतों को पूरा करने का योग बना हुआ है, फिर भी आप अपने कामकाज की स्तिथि से खुश नहीं हैं. कामकाज के क्षेत्र में विचारों का मतभेद बना रहे ऐसा हो सकता है.
क्या करें – आपके रवये की वजह से हो सकता है लोग आपकी आलोचना करते चले जाएँ और फिर आपको उन परेशानियों को सुलझाने के लिए झूझना पड़े, इसलिए पहले से ही अपने अंदर ऐसे परिवर्तन ले आएं जो आपकी विनम्रता को बढ़ाए.
क्या न करें – कामकाज से जुड़े कई तरह के विकल्प आपके सामने हो सकते हैं पर किसी भी विचार को बिना सोचे-समझे आगे बढ़ाना ठीक नहीं है. वैसे भी इस बात को समझ लें की यह किसी भी तरह के परिवर्तन का समय नहीं है. ज़ल्दबाज़ी में ज्यादा पैसा जुटा लेने से भी देनदारी का बोझ बढ़ सकता है जो ठीक नहीं है.

मीन (Pisces) रिश्तों की मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है जिसकी वजह से घर-परिवार में भी लोगों से बहस छिड़ी रह सकती है. परेशानी यह है की आप अपनी ही धुन में अपने काम में मगन हैं और घर-परिवार के मुद्दों को नज़रंदाज़ करते चले जा रहे हैं.
क्या करें – किसी प्यार के रिश्ते की ओर इच्छाएं बहुत हैं पर उसका बुरा असर आपके कामकाज की स्तिथि पर पड़ सकता है. अगर किसी भी वजह से आपका प्रदर्शन कम हो जाएगा तो फिर उसे संभालना भी मुश्किल होता चला जाएगा.

क्या न करें – कामकाज से जुड़े फैसलों के लिए तकदीर के भरोसे चलना ठीक नहीं है क्योंकि यह समय ही कुछ ऐसा है जो आपकी आर्थिक स्तिथि को कमज़ोर करता चला जाए, इसलिए कामकाज से जुड़े फैसले इस रूप से करें जिसमें आपकी आर्थिक स्तिथि कमज़ोर न पडती चली जाए और जिसके चलते कोई बड़ा नुकसान न होता रहे.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.