Consult Jyotishguru Deepak Kapoor

10 minute phone consultation

We all are confronted with various concerns in which proper guidance is needed. It may only be a brief challenge in which an elaborate analysis of the chart may not be needed. In such moments consult Jyotishguru Deepak Kapoor from the comfort of your home. On popular demand we offer a new product that may solve your immediate concerns.

10 minute phone consultation

with

Jyotishguru Deepak Kapoor

Consultation Rs. 1000/- only

How to book

· Pay Rs. 1000/- through Paytm to phone number 9717496780 or through UPI to deepak6780@icici.

· Send the details of payment reference, your name, mobile number, date of birth, time of birth and place of birth and convey your specific concern for which you need guidance or answer, through Whatsapp number 9868463900. Your appointment will be conveyed through Whatsapp.

· This is a limited time and limited period offer, so avail it without any delay.

· The appointment is limited to 10 minutes only and the call will automatically end at the end of 10 minutes.

· The payment cannot be made through any card. No payment link will be sent.

Wednesday, January 11, 2017

Wednesday 11th January 2017, Vedic Astrology Forecasts, Rashiphal

मेष (Aries) किसी प्यार के रिश्ते की ओर आपका मन भटक रहा है. आप सन्तुष भी नहीं है और फैसला भी नहीं कर पा रहे, लेकिन बहुत कुछ ठीक भी है इतना भी घबराने की बात नहीं है.
क्या करें – अपने focus को और अपनी मेहनत को और तराशने की ज़रूरत है. कोशिश करके देखें तो आपकी अच्छाई लोगो को नजर भी आयेगी. आप इस समय अपनी ओर से बहुत कुछ कर पाएंगे ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – अगर रिश्तों को संभालना है तो रिश्तों को तकदीर के भरोसे न छोड़ें. अपनी अच्छाई बनाये रखें और अपनों का ख्याल कर लें. किसी को भी नज़रअंदाज़ करना इस समय ठीक नहीं है. अपने बड़ों की बात में भी इस समय कोई गलती न निकालें.

वृषभ (Taurus) आप कोई इन्वेस्टमेंट कर रहे हैं लेकिन बात ही नहीं बन रही, लेकिन बड़ी बात तो यह है की आप फैसला भी नहीं कर पा रहे. घर-परिवार, ज़मीन-जयदाद से जुड़े कई सारे ऐसे मसले हैं जिन्हें एक नयी नजर से देखना होगा.
क्या करें – अपने पैसे को भी और अपनी योग्यताओं को भी सही रूप से इस्तेमाल करने की ज़रूरत है. जिस रास्ते पर भी चलें उसकी कोई मंजिल होनी चाहिए. मन में जो भी विचार बनायें उसका कोई मतलब होना चाहिए. अपनी कोशिशों में बनते हुए भटकाव से बचना होगा.
क्या न करें – अपनों के प्रति अपने मन में अविश्वास बनाकर अपनों को नाराज़ न कर लें और इस नाराज़गी का असर अपने किसी प्यार के रिश्ते पर भी न पड़ने दें. अपने विचारों को व्यक्त करते हुए किसी भी तरह की गलती कर लेना ठीक नहीं है.

मिथुन (Gemini) आप यह नहीं समझ पा रहे की इस समय आप क्या कुछ कर सकते हैं. अगर अपनी दोस्ती निभानी है तो अपने मन को बहुत साफ़ करना होगा. मन में बनते बिगड़ते विचारों को थाम लेने की ज़रूरत है.
क्या करें – रिश्तों को प्राथमिकता देना एक बहुत बड़ा लक्ष्य होना चाहिए. थोड़ी सी कोशिश से आप बहुत कुछ संभाल भी सकते हैं. अपने विचारों को लोगों तक पहुंचाने की कोशिश तो करनी ही होगी.
क्या न करें – ऐसा न सोचें की आपके अंदर कोई कमी है. ऐसा भी न सोचें की आप मेहनत नहीं कर पा रहे, ज़िन्दगी में उतार-चढ़ाव बने रहते हैं लेकिन अपने मन में किसी भी तरह की हीन भावना रखना ठीक नहीं है.

कर्क (Cancer) आपकी कही हुई बात आपको परेशानी में डाल सकती है. अगर आप लोगों से फासला बना लेंगे तो परेशानियाँ और भी बढ़ सकती हैं. अपने मन में किसी के प्रति द्वेष की भावना रखना भी ठीक नहीं है.
क्या करें – किसी भी रास्ते पर चलते हुए उससे जुडी हुई कठिनाइयों को पहले से भांप लेना होगा. और ऐसा करते हुए अपने कदम थोड़े से पीछे भी हटा लेने होंगे. ज़िन्दगी में किसी भी तरह का फैसला करते हुए अपनी सीमाओं को समझ लेना ज्यादा अच्छा है.
क्या न करें – अपने पैसे को कहीं भी फंसाए नहीं. अपनी बचत को किसी भी तरह के खतरे में डाल लेना भी ठीक नहीं है. किसी भी तरह का रिस्क बिलकुल न लें और खासकर किसी भी रूप से ज़ल्दबाज़ी बिलकुल न करें.

सिंह (Leo) सिर्फ पैसे के बारे में सोचकर आपके आँखों के आगे एक पर्दा सा छा गया है. आप बहुत सारी बातों को स्पष्ट रूप से समझ नहीं पा रहे हैं. यही वजह है की मन में एक अविश्वास की भावना बनती चली जा रही है.
क्या करें – इस बात को भलीभांति समझना होगा की आपको कितने पैसे की ज़रूरत है. पैसा ज्यादा से ज्यादा आपके मन में एक संतोष पैदा कर सकता है. ज़िन्दगी के सारे मसले पैसे से हल हो जाएँ ऐसा होना मुश्किल है इसलिए अपने कामकाज की अच्छाई को भी समझने की ज़रूरत है.
क्या न करें – किसी प्यार के रिश्ते के बारे में सोचकर ज़िन्दगी की और चीज़ों को दांव पर लगा देना ठीक नहीं है. ज़िन्दगी में किसी भी तरह का एकतरफा विचार बना लेना भी ठीक नहीं है. एक तालमेल की स्तिथि तो बनानी ही होगी जिसमे कामकाज और रिश्तों का सामंजस्य है.

कन्या (Virgo) आप अपने कामकाज की अच्छाई को समझ नहीं पा रहे हैं. यही वजह है की आप हमेशा किसी बदलाव के बारे में सोचते रहते हैं. यह सिर्फ आपके मन का भटकाव है और कुछ नहीं है.
क्या करें – इस बात को समझें की आप अपने कामकाज के साथ अपनों का ख्याल रख पा रहे है. इसी अच्छाई को बनाये रखते हुए अपने जीवन में सुख प्राप्त करना होगा. अपनों के करीब आ जाने का समय है.
क्या न करें – ऐसा न सोचें की लोग आपके खिलाफ हैं. अगर लोग अपनी ओर से कुछ नहीं कह रहे तो यह भी एक अच्छाई का ही रूप है. हर चीज़ में और हर व्यक्ति में गलती निकाल लेना भी ठीक नहीं है.

तुला (Libra) पैसों को लेकर मन में असंतोष पैदा करने से कुछ हासिल नहीं होगा. इसका सीधा-सीधा असर आपके कामकाज पर या आपकी मेहनत पर आ जायेगा, इसलिए अपने मन में एक सकारत्मक सोच बनाये रखना भी बहुत जरूरी है.
क्या करें – भाग्य आपका साथ दे रहा है लेकिन अपने मन को थामना होगा. हर छोटी बात को अपने मन में बढ़ा देने से भी बचना होगा. ज़िन्दगी की हर सम्भावना को लेकर अपने मन में एक उमंग पैदा करनी होगी.
क्या न करें – अपने दोस्तों में और अपने आसपास के लोगों में कमियां न ढूँढ़ते रहे. हर बात में लोगों की गलती निकाल कर फासले बना लेना भी ठीक नहीं है. आने वाले चार बुधवार को दुर्गा माँ के आगे नतमस्तक होने से लाभ जरुर होगा.

वृश्चिक (Scorpio) कामकाज को लेकर मन में भरोसा बनाये रखेंगे तो छोटी छोटी बातों को संभालना आसान हो जाएगा. यह समय ही कुछ ऐसा है की आप बहुत negatively सोच रहे हैं, इसलिए आपके मन में एक घबराहट है जो ठीक नहीं है.
क्या करें – काम से लाभ का अच्छा समय बना हुआ है और कोई कमी नहीं है. पैसे को संभाले रखना भी एक बहुत बड़ी बात है जिस ओर प्रयास करना होगा.ऐसा करते हुए आप अपनी बचत को भी और बढ़ा पायेगे.
क्या न करें – किसी भी तरह का रिस्क बिलकुल न लें. अपने पैसे के आगमन की regularity को भी किसी भी वजह से कम न होने दें. लोगों से किसी भी तरह की बहस में पड़ना ठीक नहीं है.

धनु (Sagittarius) हालात सुखद हैं, मददगार है और कोई कमी नहीं है लेकिन आपके मन का भटकाव कुछ ऐसा है जो आपको परेशान ही किये हुए है. बहुत ज्यादा सोचने से भी कुछ हासिल होता नहीं.
क्या करें – लोगों से तालमेल को बनाये रखें और लोगों की मदद और सलाह जरुर लेते रहें, इसी से आपके जीवन में एक स्थिरता आ जाएगी और कामकाज को आगे बढ़ाने में भी मदद मिलेगी. कामकाज को लेकर अच्छा समय बना हुआ है इसे आगे भी बनाये रखना होगा.
क्या न करें – अपने सीनियर्स की और अपने बड़े बुजुर्गों की बात को काटे नहीं. किसी से भी कोई ऐसी बात न कहें जो आगे चलकर आपके खिलाफ इस्तेमाल की जाए. अपनी बचत को भी खतरे में डालना ठीक नहीं है.

मकर (Capricorn) मन दुखी रहेगा तो हर चीज़ एक परेशानी ही लगेगी. वैसे भी यह कमज़ोर समय है जिसमे थोडा सा संभल कर चलना ही जरूरी है. घर-परिवार में अपनों से दूरियां बनाकर खुद को दुखी करना भी ठीक नहीं है.
क्या करें – किसी भी बहस में पड़ने से बचना होगा. अगर मतभेद है तो उसे समय रहते थाम लेना ही अच्छा है. वैसे भी एक बचाव का माहोल है जो आपको मदद जरुर करेगा.
क्या न करें – अगर लोग आपसे खुश नहीं हैं तो इस बात को नज़रअंदाज़ न करें. उसके पीछे के कारणों को समझने की कोशिश करें. अपने मन में किसी भी तरह का अविश्वास बनाकर किसी बात को बिगड़ने न दें. ज़िन्दगी की परेशानियों को बढ़ा लेना ठीक नहीं है.

कुम्भ (Aquarius) रिश्तों का तानाबाना सुखद बना हुआ है लेकिन आप फिर भी संतुष्ट नहीं हैं. आपको अपनों से बहुत ज्यादा उम्मीदें हैं और इसी वजह से आप कुछ परेशान से भी हैं. बिना कारण मन में परेशानियाँ बनाये रखना भी ठीक नहीं है.
क्या करें - छुटपुट परेशानियों के बावजूद अपनी काबलियत को इस्तेमाल करने का समय है. आपके अंदर बहुत सारी योग्यता है की आप लोगों का दिल जीत सकें. थोड़ी सी कोशिश करेंगे तो इससे फायदा जरुर होगा.
क्या न करें – घर-परिवार में अपनों की गलती बिलकुल न निकालें. उनका साथ और समर्थन आपके लिए बना रहेगा. कुछ भी ऐसा न करें जिससे अपनों से विचार न मिलें या अपनों से फासले बढ़ जाएँ.

मीन (Pisces)घर-परिवार की परेशानियों को समझने के लिए अपने मन को बहुत शांत करना होगा. हर बात को लेकर अगर अपने मन में भटकाव रखेंगे तो बात बिगडती ही चली जाएगी, इसलिए रिश्तों को समझना और संभालना बहुत जरूरी है.
क्या करें – एक व्यावहारिक नजरिया बनाए रखने की ज़रूरत है, तभी जाकर वैचारिक मतभेद को संभाला जा सकेगा. पारिवारिक रिश्तों की ओर भी ध्यान देने की भी इसी वजह से ज़रूरत पड़ेगी.

क्या न करें – कामकाज के क्षेत्र में भी किसी वैचारिक मतभेद को बढने न दें. ऐसा हो सकता है की आपकी अच्छाई के बावजूद आपके लोगों से विचार न मिलें, लेकिन इस समय कोई ऐसी बात न करें जिससे आपका ही नुकसान हो जाए.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.