Speak to Jyotishguru Deepak Kapoor

Place your order for Astrotalk at www.Jyotishguru.com

Friday, January 26, 2018

Friday 26th January 2018, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

मेष (Aries) काम की ओर आपका रुझान भी बढेगा और आपका प्रदर्शन भी बढ़ेगा, इसी के चलते आपके हालात आपकी हर रूप से मदद भी करेंगे. ज़िन्दगी में खुशियों बनी रहें तो कुछ भी करना आसान हो जाता है.
क्या करें – अपने अंदर थोड़ी सी विनम्रता लानी होगी. कुछ हद तक गलतियों भरा समय है जिसके चलते गलतियों से भी बचना होगा. अपनी बात को कह लेना और अपनी बात को मनवा लेना बहुत आसान होता है, पर ऐसे में लोगों की बात को समझना भी बहुत जरूरी है.
क्या न करें – ज़िन्दगी के उस तालमेल को समझने में कोई गलती न करें जिसके चलते लोगों से आपको फायदा हो रहा है. यही वजह है की आपको उन अच्छाईयों की ओर भी देखना होगा जो आपको लोगों के करीब ला सकती है. लोगों के प्रति किसी भी तरह की मन में कडवाहट न पैदा करें.

वृषभ (Taurus) लोग आपको समझ रहे हैं और आपका साथ निभाना चाह रहे हैं, पर परेशानी यह है की आप लोगों से दूर हटते चले जा रहे हैं. यह आपके मन की बनी हुई दुविधाएं हो सकती हैं जो रिश्तों में तनाव पैदा कर रही हैं.
क्या करें – कभी-कभी दूरियां बन जाने से किसी और की अच्छाई समझ में आती है, शायद आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है. उन दूरियों को हटाकर नजदीकियों में बदलना होगा ताकि हालात आपको हर तरह से मदद भी कर सकें. बढ़ते हुए खर्चों को भी थाम लेने की जरूरत है.
क्या न करें – ज़िन्दगी का किसी भी तरह का तनाव क्यों न हो पर अपने विचारों को प्रबल बनाकर आप अपना नुकसान न करें. किसी से भी इतना मतभेद न बढ़ाएं की उसे आगे चलकर संभालना मुश्किल हो जाए, इसलिए भी अपने अंदर धैर्य बनाये रखें.
उपाय- आनेवाले चार मंगलवार को किसी मंदिर में चले जाएँ और हनुमान जी की पूजा-अर्चना कर लें. बहुत आसान सा उपाय है जिसके चलते इस समय की चुनोतियों को सँभालने में मदद जरुर मिलेगी.

मिथुन (Gemini) अगर लोग नाराज़ रहेंगे तो आपकी मेहनत भी उनको नजर नहीं आएगी. वैसे भी अपनी मेहनत को सही रास्ते पर लगाने की जरूरत है ताकि उसके अच्छे परिणाम आपको मिल सकें. अपनी बात में इतनी मधुरता जरुर ले आयें ताकि लोग आपके खिलाफ न हो जाएँ.
क्या करें – पैसे के लेनदेन को बहुत सुचारू रूप से समझना होगा ताकि आपके बढ़ते हुए खर्चे भी संभले रहें. किसी भी तरह की उत्तेजना के तहत फैसले करने से भी फिलहाल आपको बचना ही होगा, तब जाकर हालात आपको मदद कर पाएंगे.
क्या न करें – सिर्फ लोगों की मदद से रिश्ते नहीं संवरा करते, रिश्तों की अच्छाई और गहराई को समझने की भी जरूरत पड़ेगी. अपनों की सहमति के बावजूद शायद कोई रिश्ता आगे न बढ़ पाए. ऐसे में किसी भी तरह के रिश्ते पर बहुत ज्यादा दबाव बिलकुल न बनायें, थोडा रुक जाएँ.

कर्क (Cancer) अपनों की जरूरतों को समझेंगे तो ज़िन्दगी की खुशियाँ बनी रहेंगी. घर-परिवार में तालमेल बनाये रखना इसलिए बहुत जरूरी होगा. यह एक ऐसा प्राथमिकता का क्षेत्र है जिस ओर आपको ध्यान तो देना ही पड़ेगा.
क्या करें – अपनों के लिए समय निकाल लें और रिश्तों को बेहतर करने की कोशिश कर लें. कामकाज की स्तिथि वैसे ही ठीक है पर घर-परिवार में रिश्तों को सँभालने के लिए अपनी तवज्जो बढ़ा दें. हर समय की कोई न कोई प्राथमिकता होती है, उसे समझ लें.
क्या न करें – ऐसा न सोचते चले जाएँ की निजी जीवन के हालात खुद-ब-खुद सम्भल जायेंगे. हर कदम पर आपको कुछ न कुछ करना पड़ेगा और अपना योगदान बढ़ाना पड़ेगा, तब जाकर आप अपने बुजुर्गों की बात को समझ पाएंगे, इसलिए उनकी बात को काटना बिलकुल भी ठीक नहीं होगा.

सिंह (Leo) आलोचनात्मक रवय्या अपनाने से बचना होगा, खासकर कामकाज के क्षेत्र में अगर आप विचारों के मतभेद में पड़ते चले जायेंगे तो उसका बुरा असर आपके कामकाज पर पड़ेगा और आपकी लगन भी कम हो जाएगी. इसी बात को फिलहाल संभाले रखने की जरूरत पड़ेगी.
क्या करें – हालात मददगार हैं क्योंकि घर-परिवार की खुशियाँ आपके लिए बनी रह सकती हैं और ऐसे अच्छे समय में किसी भी तरह का जोखिम उठाने से बचना होगा. अगर लोग आपसे खुश हैं तो उस ख़ुशी को बनाये रखने के लिए भी कुछ न कुछ करते रहने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – अपनी मेहनत को किसी भी वजह से कम न करें. अच्छी भली स्तिथि के चलते आप कहीं लापरवाह न होते चले जाएँ और ऐसा करके अपनी चुनोतियों को कहीं बढ़ा न लें, खासकर अगर आपकी मेहनत में कमी आ जाएगी तो आपकी दिक्कतें बढ़ जाएँगी, बस यह न होने दें.

कन्या (Virgo) आपकी बढती हुई इच्छाएं आपको किसी के करीब ला सकती हैं. पर मन की दुविधाएं कुछ ऐसी हैं जो आपसे संभाली नहीं जा रहीं, इस वजह से भी हर चीज़ आपको पहाड़ की तरह लग रही है. बढ़ते हुए खर्चे भी परेशानी का कारण हो सकते हैं.
क्या करें – अपने मन की परेशानियों को संभालना है तो अपनी मेहनत को और पुख्ता कर लें. मेहनत से मन में भरोसा जागृत हो जायेगा और भरोसा जागृत होगा तो आपकी सफलता की इबारत लिखी जाएगी. एक कदम आगे बढ़कर देखिये सबकुछ ठीक होगा.
क्या न करें – लोगों की अच्छाई की वजह से जो आपके हालात संभल रहे हैं उन्हें कमी की नजर से न देखें. ऐसा भी न सोचते चले जाएँ की आपके पास पैसा प्रयाप्त है, क्योंकि बढती हुई जरूरतों के चलते आप अपने पैसे के आंकलन में कोई गलती न कर जाएँ.

तुला (Libra) घर-परिवार की खुशियों का ख्याल रखना इस समय की प्राथमिकता है और आप ऐसा भलीभांति कर भी पाएंगे क्योंकि आपके अंदर एक सकारत्मक प्रेरणा बनी हुई है जो आपको अपनों से जोड़े रखे, ऐसे अच्छे समय का पूरा फायदा उठा लेना बहुत जरूरी है.
क्या करें – ज़िन्दगी के जो भी नए मौके मिल रहे हैं उनके बारे में एक बार जरूर सोच लें और किसी भी फैसले को करने से पहले अपनी सूझबूझ को भी बनाये रखें. हर चीज़ की कमियां और अच्छाईयों का आंकलन करना ऐसे में बहुत जरूरी होता है.
क्या न करें – भागदौड़ भी उतनी करें जिसका असर आपकी सेहत पर न आये, इसलिए अपनी इच्छाओ और आकाँक्षाओं को भी हद से ज्यादा न बढ़ाएं. नियमित रूप से अपनी ज़िन्दगी के फैसले करना बहुत जरूरी है ताकि आपसे कोई सेहत से जुडी लापरवाही न हो जाये.

वृश्चिक (Scorpio) मन परेशान रहेगा तो कुछ बेहतर करने की प्रेरणा जगेगी और वही प्रेरणा आपसे आपके समय का सदुपयोग कराएगी. इस भरोसे और विश्वास के साथ अपने कदम आगे बढाने होंगे.
क्या करें – आपके अंदर भरपूर अच्छाई भी है और आगे बढ़ने का जूनून भी है पर आपके मन की दुविधाएं भी साथ ही साथ चल रही हैं जिन्हें भी एक-एक करके संभालना ही पड़ेगा.
क्या न करें – व्यर्थ की बातों में अपने समय को बर्बाद न करें. ऐसे ही समय में अपने ज्ञान या अपनी क्षमताओं को सही रूप से इस्तेमाल न करना भी एक तरह की गलती है. इसलिए अपने हालात का सही आंकलन करें ताकि इस समय की क्या प्राथमिकता है और किस रूप से आपको उसे संभालना है.

धनु (Sagittarius) जब भी हालात बेहतर होते हैं तो इंसान से गलती भी होती है. आपके लिए भी कुछ ऐसे ही संयोग हैं क्योंकि हालात आपकी मदद करना चाह रहे हैं लेकिन आपकी लापरवाही आपसे नुकसान करवाती चली जा रही है, इसी नुकसान से बचना होगा.
क्या करें – अपनी आर्थिक स्तिथि का सही आंकलन करना होगा ताकि आपके बढ़ते हुए खर्चे भी संभले रहें. पैसा जोड़ते चले जाना प्राथमिकता नहीं है लेकिन पैसे को बर्बाद करने से तो फिर भी बचना ही होगा, इसलिए अपने हालात का सही जायजा लेना होगा.
क्या न करें – आपके आसपास आपके अपनों की अच्छाई को समझने में आप कोई गलती न करें. अपने मन में किसी भी तरह की नकारात्मकता को बढ़ाएं नहीं. ऐसा न हो की आपको लोगों की अच्छी बात भी बुरी लगनी शुरू हो जाए और यही ठीक नहीं होगा.

मकर (Capricorn) लोग आपकी आलोचना भी कर रहे हैं पर कहीं न कहीं आपकी सहायता भी करना चाह रहे हैं. मिलाजुला सा समय है जिसमे अच्छाई को भी समझना है लेकिन उन रुकावटों को भी समझना है जो साथ ही साथ बनती चली जा रही हैं, तभी जाकर आप इस समय का पूरा फायदा उठा पाएंगे.
क्या करें – बेहतर होती हुई आर्थिक स्तिथि एक वरदान है पर ऐसे में अपना ही नुकसान करते चले जाना इस समय की कमी है और अगर आप तकदीर को आजमाने के लिए कोई कदम उठाएंगे तो यह आपकी गलती होगी.
क्या न करें – कामकाज के क्षेत्र में अपनी लगन और अपनी स्थिरता बनाये रखने में कोई कमी न आने दें. ज़िन्दगी के उस सुकून को भी देख लें जो आपके लिए इस समय बन सकता है, ऐसे में कोई ज़ल्दबाज़ी से जुड़ा फैसला बिलकुल न करें.

कुम्भ (Aquarius) अगर लोग आपसे दूर हटते चले जायेंगे तो मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है, अगर आपके मन में दूरियां बनती चली जाएंगी तो लोगों से भरोसा उठ जायेगा. इस वजह से आपकी भी गलतियाँ हैं और लोगों को भी आपको समझने में मुश्किल हो रही है.
क्या करें – कामकाज की स्तिथि ठीक है और आपका रुझान कामकाज के प्रति सुंदर है और उससे कहीं बढ़कर अपनी प्राथमिकताओं को समझें जो निजी जीवन की खुशियों को बनाये रखने में मदद कर सकती है. बढती हुई दूरियों को नजदीकियों में बदलने की कोशिश करनी होगी.
क्या न करें – सिर्फ पैसे की अच्छी भली स्तिथि से सुकून न पालें. इसलिए हर चीज़ को सिर्फ पैसे की नजर से न तोलते चले जाएँ. लोगों को नाराज़ करके आप कहीं अपनी ज़िन्दगी के सुख और चैन को कम न कर दें.

मीन (Pisces) आप हर तरह की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उसका पूरा फल नहीं मिल पा रहा है. अपनी ही क्षमताओं पर आप सवाल खड़े करते चले जायेंगे तो इस तरह की कमियां बनी रह सकती हैं, इसलिए भी इस बात को समझना होगा.
क्या करें – हालात हर तरह से मददगार हैं. तकदीर की भूमिका अच्छी है पर पैसे को और अपनी बचत को भलीभांति समझने की जरूरत है. अपने फैसलों को अंजाम देने के लिए अपनी स्तिथि का सही आंकलन करने की जरूरत पड़ेगी.

क्या न करें – कामकाज से जुडी बढती हुई जिम्मेदारियों से आप घबरा ना जाएँ. उस अच्छाई की ओर नजर दौड़ा लें जो लोगों की इच्छाओं और आकाँक्षाओं से जुडी हुई है. लोग आपसे बहुत सारी उम्मीदें लगाये हैं, इसलिए आप अपनी ओर से कोई कमी न रखें.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.