Consult Jyotishguru Deepak Kapoor

Consult Jyotishguru Deepak Kapoor

from the comfort of your home

Place your order for Astrotalk

at www.jyotishguru.com

or call 9868463900

for any clarification

Wednesday, August 21, 2019

Wednesday 21st August 2019, Vedic Astrology Forecast, Rashiphal

आज 21 अगस्त 2019 है और बुधवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2076 है और शक संवत 1941
भाद्रपद मास चल रहा है और कृष्ण पक्ष
आज षष्ठी तिथि है दिन भर.
अश्वनी नक्षत्र है रात 12 बजकर 47 मिनट तक और उसके बाद भरिणी नक्षत्र है.
चंद्रमा चल रहे हैं मेष राशि में. आज चन्दन षष्ठी है और गंडमूल समाप्त हो रहे हैं देर रात 12 बजकर 47 मिनट पर.

मेष (Aries) कामकाज को लेकर कई तरह मन में चिंताएं हैं. किसी भी तरह की असमंजस की स्तिथि हमेशा चिंताओं को पैदा करती है और इंसान समझ नहीं पाता की कैसे अपनी ज़िन्दगी के रास्ते को बनाया जाए. काम और काम से जुड़े लाभ को लेकर आज आप उसी ज़िन्दगी के मोड़ पर खड़े हैं.
क्या करें – अपनी क़ाबलियत को तराशने का समय है क्योंकि यही चीज़ भविष्य में आपके लिए मददगार साबित होगी. काम का उतार-चढ़ाव भी बना रहेगा. लाभ और हानि की स्थितियां भी बनती बिगडती रहेंगी और हर ऐसे दौर में अपनी मेहनत ही काम आएगी. आज आपको इसी बात को समझने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – किसी भी विकल्प को लेकर भावुकता से फैसले बिलकुल न करें. आज की चुनोतियों से घबरा न जाएँ. अपनी सूझबूझ से अपने हालात को बेहतर करने के जो भी मौके मिल रहे हैं उन्हें हाथ से जाने न दें.

वृषभ (Taurus) ज़िन्दगी में हर चीज़ हमारे मन मुताबिक नहीं चल सकती. बहुत कुछ ऐसा होता है जो हालात के रूप में पीठ पीछे होता चला जाता है और हमें उन सभी चीज़ों से समझोता ही करना पड़ता है, फिर भी ज़िन्दगी का सुख और सुकून बना रहे तो बहुत बड़ी बात है. इस समय की परेशानी यह है की आपका मन बहुत भटक रहा है.
क्या करें – ज़िन्दगी की स्थिरता बनाये रखने के लिए अपनों से जुड़ना होगा और अपनों की बात को समझते हुए ही फैसले करने होंगे. इस बात को समझ लें की जब कोई भी चीज़ बिगड़ेगी तो आपके अपने ही आपके काम आएंगे और उसी अपनत्व को बनाये रखना आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए.
क्या न करें – अपने मन में कोई ऐसी नकारात्मकता न बनाएं की लोगों से तकरार की स्तिथि उत्पन्न होनी शुरू हो जाए. अपनों के प्रति आप समर्पित हैं पर लोगों की बातों में आकर आपसी रंजिशों को आप कहीं बढाते न चले जाएँ.

मिथुन (Gemini) अपनी दोस्ती से जुड़ी हुई अपनी प्राथमिकताओं को समझने का समय है इसलिए लोगों पर भरोसा भी करना होगा. लोगों से तालमेल बनाये रखने के लिए भी कभी-कभी अपनी इच्छाओं के खिलाफ भी अपने कदम आगे बढाने पड़ते हैं. हालात से समझोता कर लेना भी जरूरी हो जाता है.
क्या करें – विचारों का मतभेद इंसान का सुख और सुकून छीन लेता है, पर आपकी इस समय की कोशिशें उन परेशानियों को संभाले रखने में आपकी मदद कर सकती हैं. आपके अंदर वो सारी सूझबूझ है जो आप इस्तेमाल करके अपने लिए रिश्तों का सुख बनाये रखें.
क्या न करें – पढने में या कुछ करने के प्रयास में अपनी मेहनत को जरूर बनाये रखें पर कोई ऐसा कदम न उठायें जो आपकी बढती हुई इच्छाओं की वजह से आपका नुकसान कर जाए. अपनी उम्मीदों और अपनी इच्छाओं को पूरा करना ही ज़िन्दगी का लक्ष्य होता है, पर उम्मीदों का हद से बढ़ जाना भी ठीक नहीं है.

उपाय – मिथुन राशि वालों के लिए ख़ास उपाय यह है जी आने वाले चार मंगलवार को किसी मंदिर में जाएँ और हनुमान जी की मूर्ती के आगे माथा टेक लें. किसी भी उपाय का अभिप्राय यह होता है की किसी भी समय से जुड़ी हुई कठिनाइयों को आसानी से पार किया जा सके. अपने मन में धैर्य बना लेना और खुद को उन कठिनाइयों से पार पाने के लिए सक्षम बना लेना भी इसी प्रयास का एक हिस्सा है.

कर्क (Cancer) कामकाज से जुड़ी हुई कई ऐसी परिस्थितियां हैं जो आप इस समय पूरी तरह से समझ नहीं पा रहे हैं और असमंजस की स्तिथि ही विचारिक मतभेद को पैदा करती है जबकि आपका समर्पण ऐसी किसी भी परेशानी को बहुत आसानी से हटा सकता है. आपको भी खुद पर भरोसा करना होगा और उस भरोसे को लोगों तक इस रूप से पहुँचाना होगा की वो आपकी बात को समझ सकें. लगातार अगर हालात आपके खिलाफ बने रहें तो मुश्किलें ही पैदा होती हैं.
क्या करें – इस समय की अच्छाई यह है की आपके लिए लाभ की स्तिथि बन सकती है और आपकी आर्थिक स्तिथि बेहतर हो सकती है. ऐसा करने के लिए अपने ज्ञान को अपनी मेहनत को उभार लेने का समय है. ज़िन्दगी में प्रतियोगिता की भावना बनाए रखेंगे तो लोगों से दो कदम आगे रहना आसान हो जाएगा.
क्या न करें – अपनों से सिर्फ लाभ की उम्मीद न लगाते चले जाएँ, बल्कि इस बात को भी याद रखें की आपको अपनों के लिए भी बहुत कुछ करना है और अपनों के लिए वक्त भी निकालना है. लाभ कामने के प्रयास में इतना भी व्यस्त न हो जाएँ की ज़िन्दगी की बाकी प्राथमिकतायें पीछे छुटती चली जाएँ.

सिंह (Leo) कामकाज से जुड़े हालात हर तरह से मददगार हैं और घर-परिवार की खुशियाँ भी बहुत हद तक बनी हुई हैं, पर कोई प्यार का रिश्ता आपकी पकड़ में नहीं आ रहा. कई तरह की ग़लतफहमियाँ पैदा हो सकती हैं जिसके चलते मुश्किलों का सामना करना पड़े.
क्या करें – अपनी अच्छाई को हर सूरत में बनाये रखना होगा. बहुत सारी विनम्रता बनाये रखते हुए लोगों की बात को समझने की कोशिश भी करनी होगी. ऐसा करते हुए सबकुछ ठीक ठाक चलेगा ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – अपनी मेहनत को किसी भी वजह से कम न होने दें क्योंकि वही मेहनत आपको ज़िन्दगी के नए रास्ते पर चलाएगी. अपनी उपलब्धियों को किसी भी तरह की कमी की नजर से देखने से कोई फायदा नहीं होता.

कन्या (Virgo) मन परेशान रहेगा तो घर-परिवार में अपनों से तकरार की स्तिथि बढ़ती चली जायेगी पर इस चीज़ का बुरा असर इस रूप से पड़ेगा की आप लोगों पर उस तरह का भरोसा नहीं कर पाएंगे जितनी की जरूरत है.
क्या करें – अपनी कोशिशों को बहुत ऊंचे स्तर का बनाये रखने की जरूरत है. उसके लिए अपने मन में बिठाई हुई घबराहट को भी हटाना ही पड़ेगा तभी जाकर ज़िन्दगी को आप पूरी तरह से समझ पाएंगे और उससे जुड़ी चुनोतियों को संभाल पाएंगे.
क्या न करें – अपने हालात को किसी भी वजह से खतरे में न डालते चले जाएँ क्योंकि ऐसा करने से आपके पैसे की स्तिथि कमज़ोर पडती चली जाएगी. कुछ भी ऐसा करना जिसका दूर तक बुरा असर आए वो ठीक नहीं है.

तुला (Libra) अपनी क़ाबलियत को भरोसे की नजर से देखना बहुत जरूरी होता है और वो इस वजह से भी जरूरी है की उसी भरोसे से आपकी मेहनत उभरकर आती है जो कुछ बेहतर करने में आपकी मदद कर सके.
क्या करें – लोगों से तालमेल बनाये रखें. अपनी बात भी इस रूप से कहें की आपसी सद्भावना बनी रहे. कामकाज के क्षेत्र में भी अपने साथी-सहयोगियों को अपने साथ लेकर चलने से लाभ जरूरत होगा.
क्या न करें – सिर्फ पैसे को प्राथमिकता देते चले जाना ठीक नहीं क्योंकि ऐसा करने से आप ऐसी उम्मीद लगायेंगे की पैसा आसानी से आ जाए और आसानी से आया हुआ पैसा कभी भी उस तरह का सुख नहीं दे पाता जिसकी जरूरत होती है.

वृश्चिक (Scorpio) मन परेशान रहेगा तो आपके मुहं से कोई ऐसी बात निकलेगी जो आपको नहीं कहनी चाहिए, जिसका बुरा असर किसी न किसी रूप से आपकी ज़िन्दगी पर पड़ेगा. मन में बिठाई हुई परेशानियाँ कभी-कभी जुबान तक आ ही जाती हैं और उससे भी नुकसान ही होता है.
क्या करें – किसी भी पल को सँभालने के लिए उस पल की प्राथमिकता को समझना बहुत जरूरी है. हर समय हर चीज़ के लिए बना हुआ हो ऐसा होना मुश्किल है और इस समय की प्राथमिकता अपने काम या कारोबार के प्रति बनी रहनी चाहिए, लेकिन साथ ही साथ उसमें दूसरों के विचारों को समझने की कोशिश भी आपको करनी चाहिए.
क्या न करें – किसी ऐसे बड़े बदलाव का रास्ता न इख्तेयार करें जिसकी अभी जरूरत नहीं है, इसलिए अच्छी-भली स्तिथि को किसी भी वजह से आप कमज़ोर न करते चले जाएँ.

धनु (Sagittarius) पैसे की स्तिथि को लेकर आपके मन में बहुत सारा असंतोष हो सकता है जिसके लिए मन में बनते बिगड़ते विचार भी हो सकते हैं, पर इस बात को तो आपको कबूल करना ही पड़ेगा की आपकी वजह से भी खर्चे बढ़े रहते हैं जिन्हें संभाले रखने की भी जरूरत है.
क्या करें – अपनी इच्छाओं को थाम लेने का समय है. किसी भी तरह के बड़े कदम उठाने से भी पहले सोचना होगा और रुक जाने की भी जरूरत पड़ेगी, तभी जाकर आपके हालात आपकी पकड़ में रहेंगे.
क्या न करें – किसी भी तरह के पैसे की लेनदेन की वजह से अपना नुकसान न करते चले जाएँ, इसलिए ऐसा न सोचें की आपकी मुश्किलों का हल आसानी से हो जाएगा. यह और बात है की समय हर तरह से मदद कर रहा है, पर किसी भी वक्त को आजमाते चले जाना भी ठीक नहीं है.

मकर (Capricorn) बिना सोचे समझे पैसे से जुड़े फैसले किये जाएँ तो गलती ही होती है, जबकि यह समय तो और भी कई तरह की चिंताओं को उभारे हुए हैं जिस ओर आपको थोड़ा सा और ध्यान देने की कोशिश करनी होगी. घर-परिवार का सुख और सुकून बनाए रखने के लिए भी यह बहुत जरूरी होगा.
क्या करें – किसी भी तरह की दोस्ती को संभाले रखने के लिए आपको मनन करने की जरूरत पड़ सकती है क्योंकि कई तरह के दबाव उभरकर आ सकते हैं. हो सकता है लोग आपकी बात को समझते हुए भी न समझ रहे हों इसलिए आपको बहुत सारा धैर्य बनाये रखने की जरूरत पड़ सकती है.
क्या न करें – कामकाज से जुडी प्राथमिकताओं को संभालना है तो अपनी मेहनत को कम न होने दें. मेहनत से कहीं ज्यादा अपने प्रदर्शन की ओर ध्यान दें ताकि उसमें किसी भी तरह की गिरावट न आए.

कुम्भ (Aquarius) आपकी मेहनत अपनी जगह है पर उस मेहनत का पूरा फल नहीं मिल पा रहा. कुछ न कुछ ऐसा होता चला जा रहा है जो आपके नुकसान की परिस्थितियां बना देता है. पर उससे बड़ी परेशानी यह है की आपने खुद को बहुत ज्यादा दुखी कर रखा है.
क्या करें – अपने मन में बिठाई हुई परेशानियों को हटाकर अपनी ज़िन्दगी के प्रति लगन पैदा करनी होगी तभी जाकर वो अच्छाई उभरकर आएगी जो आपको बड़ी सफलता दे सके. हर हाल में अपनों को साथ लेकर चलना होगा ताकि ज़िन्दगी का सुख और सुकून भी आपके लिए बना रहे.
क्या न करें – उस अच्छी-भली स्तिथि में कोई कमियां न निकालें जो इस समय आपके लिए बनी हुई है. घर-परिवार की खुशियों बरक़रार हैं और लोग आपको भलीभांति समझ रहे हैं. किसी भी अच्छी-भली स्तिथि को किसी कमी की नजर से देखना ठीक नहीं होता.

मीन (Pisces) कामकाज से जुड़े हालात मिलेजुले योग दिखा रहे हैं. कारोबार में बढती हुई पैसों की जरूरतों की वजह से भी आपकी चिंताएं बढ़ी हुई हैं जिसे ओर आपको ध्यान तो देना ही पड़ेगा.
क्या करें – हालात को आजमाने के प्रयास में अपने लिए खतरे की स्तिथि बनाते चले जाने से बचना होगा क्योंकि बहुत सारी ऐसी मुश्किलें छुपी हुई है जो उजागर हो सकती हैं, इसलिए भी अपने अंदर बहुत सारी विनम्रता बनाये रखनी होगी. अपनी बात इस रूप से कहें जो लोगों को समझ में भी आए.
क्या न करें – किसी तकरार को लेकर अपने अंदर इतनी कडवाहट न लायें की उसका बुरा असर ज़िन्दगी की और चीज़ों पर पड़ता चला जाए. किसी के कहने में आकर अपनी बचत को कहीं ऐसी जगह पर न लगाएं जिसे निकालना मुश्किल हो जाए.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.