Consult Jyotishguru Deepak Kapoor
to guide your destiny and karma.
Log on to www.Jyotishguru.com




Tuesday, May 1, 2018

Tuesday 1st May 2018, Vedic Astrology Forecast, Rashi Phal

मेष (Aries) घर-परिवार से जुडी चिंताएं कुछ बढती चली जा रही हैं. जब भी बार-बार कोई परेशानी उभरती है तो यह समझ नहीं आता की उसका समाधान कैसे ढूँढा जाए, ऐसे में इंसान बहुत भावुक हो जाता है. आपके साथ भी कुछ न कुछ इसी तरह की परेशानियाँ चल रही हैं.
क्या करें – जिस भी काम से जुड़े हुए हैं उसमे बदलते हुए सन्दर्भ में कई चीज़ों को समझना पड़ेगा. आपके लिए कामकाज की परिस्थितियां बेहतर हो रही हैं और भविष्य को बनाने के कई तरह के रास्ते खुल रहे हैं. उन चुनोतियों से जुड़ने के लिए आपको अपने अंदर बहुत सारे सकारत्मक बदलाव भी लाने होंगे.
क्या न करें – किसी ऐसे मौके को हाथ से न जाने दें जो आपको बड़ी सफलता दे सकता है. खासकर अपने मन को भटकाकर और खुद को बहुत ज्यादा भावुक करके आप अपनी बनती हुई बात को बिगड़ने न दें.

वृषभ (Taurus) मन का भटकाव आपके लिए विचारों का मतभेद दर्शा रहा है. शायद जो आप कहना चाह रहे हैं उसमे तर्क की कमी भी हो सकती है, इस वजह से भी आप अपनी बात प्रबलता से कहते चले जा रहे हैं जो लोगों को समझ में नहीं आ रही.
क्या करें – कई बार ऐसी गलतियाँ होती चली जाती हैं जिन्हें समझना मुश्किल होता है. आपके लिए भी रुकावटों का दौर हैं जिसके चलते लोग आपसे नाराज़ रहें. ऐसे में किसी भी तरह की नुकसान स्तिथि से बचकर निकल जाना होगा.
क्या न करें – अपने विचारों को इतना प्रबल न बनाये की लोग उस वजह से परेशान हो जाएँ, इसलिए ज़िन्दगी की उस अच्छाई को समझें जो आप अपने लिए भी और अपनों के लिए भी बना सकते हैं. किसी भी तरह की मन की परेशानियों के चलते अपने लिए तकरार की स्तिथि पैदा करते चले जाना भी ठीक नहीं है.

मिथुन (Gemini) किसी भी तरह की छोटी सी गलतफहमी भी किसी प्यार के रिश्ते में असर डाल सकती है और ऐसे में किसी भी तरह का उतार-चढ़ाव बना रहे तो आपको लगेगा की फासले बढ़ रहे हैं, इसलिए अपनी इच्छाओं को भी थोडा सा थाम लेने की जरूरत पड़ेगी.
क्या करें – पैसे की स्तिथि ऐसी है जिसे अपनों की जरूरतों के लिए भी इस्तेमाल करना होगा. ऐसे करने से आप निजी जीवन में भी लोगों से तालमेल बना पाएंगे. ज़िन्दगी की इन छोटी-छोटी खुशियों को लेकर आगे बढने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – अपने खर्चों को इतना भी न बढ़ा लें की उसका असर आपकी ज़िन्दगी की और चीज़ों पर पड़े. आपको भी बहुत सारे कर्तव्य निभाने हैं, इसलिए अपने पैसे की स्तिथि को किसी भी तरह से बिगाड़े नहीं.

कर्क (Cancer) रिश्ते से जुड़ी चुनोतियों को तो समझना ही पड़ेगा, तब जाकर मन शांत रह पायेगा, अभी भी बहुत कुछ ऐसा है जो आपको असंतुष्ट कर रहा है.
क्या करें – घर-परिवार में सुख बनाने की कोशिश करेंगे तो वो भरपूर बनेगा, लेकिन आपके दिलोदिमाग पर कोई प्यार का रिश्ता ऐसा छाया हुआ है जो उस सुख में कमी ला सकता है, इसलिए आपके मन का भटकाव आपके कामकाज में भी तकरार पैदा किये हुए हैं.
क्या न करें – खुद को भी सँभालने की जरूरत है और कामकाज के क्षेत्र में लोगों से मधुरता बनाये रखने की भी जरूरत है. हालात कुलमिलाकर ऐसे हैं जिनमे बहुत सारे प्रश्नचिन्ह आपके ऊपर लग रहे हैं, इसलिए अपनी मानसिकता को बदलने की जरूरत है.
क्या न करें – किसी भी लापरवाही का असर अपने पैसे की स्तिथि पर न आने दें. अच्छी-भली पैसे की स्तिथि को किसी भी वजह से बिगाड़ें नहीं. आपके सामने जो भी काम से जुड़ी जिम्मेदारियां हैं उन्हें निभाने में भी कोई कमी न रखें.

सिंह (Leo) घर-परिवार से जुडी चिंताएं बहुत सारी हैं इसलिए शायद पढाई में उतना मन नहीं लग रहा. आपके अंदर क़ाबलियत बहुत है पर उस काबलियत को इस्तेमाल करने में अभी भी कमी नजर आ रही है इसलिए भी आपको खुद पर भरोसा करना सीखना होगा ताकि आपकी मेहनत का पूरा फल मिल सके.
क्या करें – परिस्थितियां आपकी हर तरह से मदद करना चाह रही हैं, पर आपको अपनों के करीब आना होगा और अपनी मन की घबराहट को हटाना होगा. थोड़ी सी कोशिश से आप अपनी ज़िन्दगी के हालात बेहतर कर सकते हैं, ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – अपने कामकाज की स्तिथि में व्यर्थ में गलतियाँ न निकालते चले जाएँ. जो चीज़ अपने भरोसे को बढाकर की जा सकती है वो लोगों के भरोसे में ही पूरी की जा सकती है, इसलिए हर चीज़ को पैसे की नजर से या लाभ की नजर से न देखें. अपने काम को आगे बढाने की कोशिश कर लें.

कन्या (Virgo) आप अपनी सूझबूझ से अपने हालात बेहतर कर सकते हैं पर आपकी उम्मीदें कुछ ज्यादा हैं और यही वजह है की आप अपनी कोशिशों को भी कमज़ोर करते चले जा रहे हैं. उम्मीदों को अपनी लगन से पूरा करना चाहिए. जादुई तरीके से आपकी उम्मीदें पूरी हो जाएँ ऐसा होता नहीं है.
क्या करें – घर-परिवार से जुडी चुनोतियाँ कुछ ऐसी हैं जिन्हें समझना होगा. घर-परिवार में अपनों के साथ मधुरता बनाये रखने से भी बहुत सारी चीज़ें आपके हित में बनती चली जाएँगी, इसलिए भी आपको लोगों की आकाँक्षाओं के अनुरूप अपनी ज़िन्दगी में बदलाव लाने होंगे.
क्या न करें – सिर्फ तकदीर के भरोसे चलकर अपनी ज़िन्दगी की दिशा बनाने की कोशिश न करें, अभी भी आपके काम में बहुत सारी कमियां हैं, उन कमियों को न समझना भी बहुत बड़ी गलती है इसलिए ऐसा कुछ न करें की आप लोगों से उम्मीद लगते चले जाएँ और आपकी मेहनत जो है वो दिशाहीन होती चली जाए.

तुला (Libra) कामकाज की स्तिथि आपको बहुत अच्छी नहीं लग रही इस वजह से आपकी अपनी मेहनत में बहुत सारे उतार-चढ़ाव नजर आ रहे हैं. एक कदम आगे बढ़कर दो कदम पीछे हटा लेने से कभी ज़िन्दगी में कुछ हासिल नहीं हुआ.
क्या करें – बदलते हुए हालात हैं जिन्हें बहुत ध्यानपूर्वक समझना होगा. कई तरह के विकल्प आपके लिए बड़ी सफलता के द्वार खोल सकते हैं, इस रूप से खुद में बदलाव लाने की कोशिश करनी होगी ताकि उसका पूरा फायदा मिल सके. पारिवारिक खुशियाँ बनाये रखने के लिए भी समय धीरे-धीरे अच्छा बनता चला जा रहा है.
क्या न करें – अपने अंदर ऐसी प्रबलता न लायें जिसके चलते आप ही का नुकसान हो जाए. कुछ भी ऐसा न करें जिसके चलते आप लोगों से व्यर्थ में फासले बनाते चले जाएँ. विचारों का न मिलना भी अपने आप में बहुत बड़े नुकसान की स्तिथि पैदा कर सकता है जिससे बचकर निकल जाएँ.

उपाय – तुला राशि वालों के लिए ख़ास उपाय यह है जी की आनेवाले चार ब्रहस्पतिवार को किसी भी मंदिर या पूजास्थल पर जाएँ उससे आपको लाभ जरुर होगा. कम से कम आप अपने मन के भटकाव को दूर कर पाएंगे और लोगों से ताल्लुकात बनाने में मदद मिलेगी.

वृश्चिक (Scorpio) जब इंसान की उम्मीदें बढती हैं तो कुछ ऐसा लगता रहता की वो बात नहीं बनी, जबकि आपकी उम्मीदें और आपकी उपलब्धियां आप ही की सोच का हेरफेर हैं जिसे थोडा सा सँभालने की जरूरत पड़ेगी. अपनी अच्छाइयों की ओर देखेंगे तो वो भरपूर नजर आएगी.
क्या करें – अपनी मेहनत से बहुत कुछ हासिल किया जा सकता है और धीरे-धीरे हालात भी ऐसे बन रहे हैं जो आपसे और ज्यादा मेहनत करवाएं. ऐसा करने से ही आपके काम और कारोबार की स्तिथि में और ज्यादा इजाफा होगा. इस समय से जुड़ी हुई कमियों पर भी एक नजर रखनी होगी जो आपकी पढाई-लिखाई या आपके ज्ञान से जुडी हुई हो.
क्या न करें – लोगों की अच्छाई को किसी कमी की नजर से न देखें. वही लोग जो आपकी सहायता करना चाह रहे हैं आप उनकी आलोचना करते चले जायेंगे तो यह ठीक नहीं होगा, इसलिए किसी से भी विचारों के तकरार में बिलकुल न पड़ें.

धनु (Sagittarius) कई तरह की चिंताएं आपके मन में बनी रह सकती हैं, पर वो सबकुछ आपकी मानसिकता की ओर इशारा कर रही हैं. आप हर छोटी चीज़ को बहुत बड़ा मानकर चल रहे हैं और यही ठीक नहीं है.
क्या करें – उत्तेजित होकर किसी भी तरह का कदम उठाने से बचना होगा. अपनी भावुकता को भी संभाले रखना होगा. संयमित रूप से चलने से जो फायदा मिल सकता है वही आपको बहुत दूर तक ले जायेगा.
क्या न करें – पैसे से जुड़े फैसलों में बार-बार उतार-चढ़ाव न लाते चले जाएँ. अपने विचारों को बदलकर भी अपने पैसे की स्तिथि को किसी कमी की नजर से न देखें.

मकर (Capricorn) लोगों से आपको बहुत ज्यादा उम्मीद है और ज़िन्दगी की बड़ी सच्चाई यह है की रिश्ते धोखा नहीं देते, आपकी उम्मीदें आपको धोखा दे जाती हैं इसलिए भी आपको अपने कामकाज की अच्छाई की ओर देखना होगा ताकि उसमे आपकी लगन बनी रहे.
क्या करें – किसी भी तरह की यात्रा या बदलाव के विचार को फिलहाल त्याग दें, ऐसा करने से आपकी परेशानियाँ बढ़ सकती है इसलिए भी आपको इस ओर नजर रखनी होगी.
क्या न करें – जिस भी काम से जुड़े हैं उसमे दो चीज़ों से लाभ हो सकता है, एक आपका ज्ञान और दूसरी आपकी मेहनत. मेहनत में फिर भी कमी हो सकती है लेकिन ज्ञान आपका पूरा साथ देगा इसलिए इस अच्छाई को किसी कमी की नजर से न देखें ताकि उसका बुरा असर न पड़े.

कुम्भ (Aquarius) कामकाज के प्रति किसी भी तरह का अविश्वास आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है. काम के प्रति असंतोष रहेगा तो पैसे की स्तिथि भी प्रयाप्त नहीं नजर आएगी, इसलिए इस बात को समझना होगा.
क्या करें – लाभ या हानि एक ही सिक्के के दो पहलु हैं. आपके लिए लाभ भी बना हुआ है लेकिन हानि की संभावनाएं भी बनी हुई है, इसलिए भी अपने कदम संभलकर ही आगे बढाने होंगे.
क्या न करें –  घर-परिवार की खुशियाँ आपके लिए भरपूर बनी हैं लेकिन उन्हें किसी भी वजह से कम न होने दें. अपने मन को भटकाकर या अपने कामकाज को किसी कमी की नजर से देखकर भी आप अपनी स्तिथि को बिगाड़ते न चले जाएँ.

मीन (Pisces) रिश्तों के प्रति बहुत सारा असंतोष बना रह सकता है, और इसका असर आपकी ज़िन्दगी की चीज़ों पर भी पड़ सकता है इसलिए भी अपने मन को शांत रखने की जरूरत पड़ेगी.
क्या करें – काम के प्रति तवज्जो भी बढानी होगी और विचार-विमर्श करके अपनी परिस्थितियों को भी संभालना होगा. धीरे-धीरे ही सही सबकुछ काबू में आ जायेगा.

क्या न करें – अपनी चुनोतियों को किसी भी तरह की कमी की नजर से न देखें और ऐसा करके आप अपनी मेहनत को भी कम न करते चले जाएँ. बहुत कुछ ऐसा है जिसे अपने बलबूते पर संभाला जा सकता है, इसलिए भी अपने अंदर कोई हीन भावना न आने दें.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.