Consult Jyotishguru Deepak Kapoor
to guide your destiny and karma.
Log on to www.Jyotishguru.com




Wednesday, October 31, 2018

Wednesday 31st October 2018, Vedic Astrology Forecast, Rashi Phal

आज 31 अक्टूबर 2018 है और बुधवार का दिन
श्री विक्रमी संवत 2075 है और शक संवत 1940
कार्तिक मास चल रहा है और कृष्ण पक्ष
सप्तमी तिथि है सुबह 11 बजकर 10 मिनट तक और उसके बाद अष्टमी तिथि है
पुष्या नक्षत्र है देर रात 02 बजकर 34 मिनट तक और उसके बाद अश्लेशा नक्षत्र
चंद्रमा चल रहे हैं कर्क राशि में
आज अहोई अष्टमी है. श्री राधा जयंती है अतः मथुरा में राधा कुंड में स्नान की परम्परा है

मेष (Aries) आप कई ऐसी संभावनाओं की ओर देख रहे हैं जिसमे तकदीर आपका साथ दे पर मन में बैठी हुई बहुत सारी शंकाए हैं. वैसे भी यह समय किसी बड़े खेल को खेलने के लिए अनुकूल नहीं है इसलिए थोडा सा रुक जाने में ही फायदा है.
क्या करें – ज़िन्दगी की खुशियों की ओर देखें और उन खुशियों से सुकून पा लें. मन में किसी भी तरह की उत्तेजना बनाने से बचें, तब जाकर आपको ज़िन्दगी की वो ख़ुशी भी नजर आएगी जो इस समय आपके लिए भरपूर बनी हुई है. कभी कभी ज्यादा पा लेने से जरूरी यह होता है की इंसान धैर्य बनाये रखे और खुश रहे.
क्या न करें – किसी भी तरह का मतभेद आपकी मुश्किलों को बढ़ा सकता है इसलिए कोई ऐसी स्तिथि ही न बनने दें जो आपको किसी भी तरह के नुकसान की ओर ले जाए, इसलिए यह समय किसी भी तरह के नए रास्ते पर चलने के लिए अनुकूल नहीं है.

वृषभ (Taurus) मुश्किलें भी हैं और मुश्किलों से पार भी पाना है. धीरे-धीरे ही सही पर वक्त हम सबको बहुत कुछ सिखा जाता है और यह समय ऐसे ही तजुर्बों को एकत्रित करने के लिए अनुकूल बना हुआ है. लोगों की आलोचना भी आपकी ज़िन्दगी की दिशा बदल सकती है.
क्या करें – खुद पर भरोसा करना होगा और जिस भी काम से जुड़े हुए हैं उसमे मन लगाने की जरूरत पड़ेगी, पर यहाँ पर एक हिदायत भी है, भरोसा भी उतना ही बनायें जो आप किसी बड़े फैसले से बचकर निकल जाएँ इसलिए लोगों की बातों में आने की बजाए अपनी सूझबूझ से फैसले करने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – किसी प्यार के रिश्ते से जुड़ी कठिनाइयों को समझने में कोई गलती न करें. आगे बढ़ते हुए आपको लगेगा की आपके अपने आपके साथ हैं, पर उन छुपी हुई कठिनाइयों को समझने में कोई गलती न करें जो साथ ही साथ चलते चली जा रही हैं.

मिथुन (Gemini) आप अपनी ओर से अच्छी बात कह रहे हैं पर लोगों के मन में गलतफ़हमी पैदा होती चली जा रही है. यह इस समय की रुकावटों का सबसे बड़ा कारण है है जिसके चलते आपको अपनी बात में सहजता लानी होगी. अपने विचारों को किसी में थोपने से बचना होगा ताकि कोई भी छोटी बात बिगड़े नहीं.
क्या करें – अपनी ओर से हर तरह की अच्छाई बनाये रखें. अपनी बात इस रूप से कहें की लोग उसे भलीभांति समझ पाएँ. पैसों की स्तिथि तब तक ठीक है जब तक आप किसी भी तरह की गलती से बचकर निकल जाएँ.
क्या न करें – लोगों से किसी भी तरह की उलझन पैदा करते चले जाना ठीक नहीं है. अच्छी-भली स्तिथि को किसी बहस की वजह से बिगाड़ लेंगे तो गलती आपकी है इसलिए किसी प्यार के रिश्ते में भी इतना ज्यादा समय न लगायें जिसमे आपसी तालमेल की कमी हो.

कर्क (Cancer) जब इंसान को लगता है की सबकुछ ठीक चल रहा है तब भी परेशानियाँ दबे पाँव आ ही जाती हैं इसलिए ज़िन्दगी के हर पल को भलीभांति समझना बहुत जरूरी है. अपने अंदर बहुत सारी विनम्रता ले आयेंगे तो किसी भी तरह के हालात को समझने में मदद मिलेगी और लोगों से तालमेल बनाये रखने के लिए आपको कोई समझोता नहीं करना पड़ेगा.
क्या करें – अपने विचारों को इस तरह से व्यवस्थित कर लें की लोगों को आपकी बात अच्छी लगे, ऐसे में अपनी बात बहुत शान्ति से कह लें. किसी पर भी अपने विचारों को थोपने से बचें. गलतफ़हमी भरे समय में ऐसा करना बहुत जरूरी होता है.
क्या न करें – अपनी पढाई-लिखाई की दिशा में सिर्फ लोगों पर आश्रित न होते चले जाएँ क्योंकि लोगों से भी वो मदद मिलेगी नहीं जिसकी आप उम्मीद लगा रहे हैं, इसलिए अपनी कोशिशों को बनाये रखने में किसी भी तरह की कमी न आने दें.

सिंह (Leo) रिश्तों के प्रति आपका झुकाव बहुत है, पर किसी प्यार के रिश्ते को लेकर आप अपनी ही बात कहते चले जा रहे हैं और मनवाने की कोशिश कर रहे हैं, शायद यही चीज़ आपकी परेशानियों का कारण बनी हुई है.
क्या करें – किसी भी तरह का फैसला हो हर चीज़ को भलीभांति समझने की जरूरत है. ज़ल्दबाज़ी इंसान से गलती करवा लेती है, इस बात को समझेंगे तो आपके हालात आपके पक्ष में बने रहेंगे.
क्या न करें – निजी जीवन की परिस्थितियों को लेकर आप अपने मन को उचाट न करें. बहुत कुछ ऐसा है जो अपनी कोशिशों से भलीभांति संभाला जा सकता है. पैसे से जुडी जरूरतें बढ़ सकती हैं. ऐसी किसी भी चुनोती को संभाले रखने में कोई गलती न करें.

कन्या (Virgo) आपको लगेगा की रिश्तों को लेकर हालात उतने सुखद नहीं और कुछ न कुछ आपके खिलाफ ही होता चला जा रहा है, पर अगर आप ध्यानपूर्वक सोचेंगे तो बहुत कुछ आपकी इच्छाओं के अनुकूल ही बना हुआ है. सिर्फ किसी भी चीज़ को करने में या पा लेने में थोडा सा वक्त लग सकता है.
क्या करें – पैसे की स्तिथि अनुकूल है और यही सबसे बड़ा आशीर्वाद है. उसके ऊपर आपकी मेहनत कुलमिलाकर आपको सही रास्ता ही दिखा रही है. यह सारी चीज़ आपको हर तरह से मदद करती चली जाए ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.
क्या न करें – अपनी कोशिशों को सही दिशा में लगायें, वो दिशा आपकी मेहनत से जुड़ी और आपकी पढाई से जुड़ी होनी चाहिए. अपनी मेहनत को लेकर अपने मन में किसी भी तरह के अविश्वास की भावना न उत्पन्न होने दें.

तुला (Libra) कामकाज की स्तिथि ठीक है पर आपको अपनी कोशिशों पर भरोसा नहीं हो पा रहा. आपको लगता है की आपकी जानकारी में भी कमी है जिसकी वजह से आप अपनी काम से जुड़ी चुनोतियों को पूरी तरह से संभाल नहीं पा रहे.
क्या करें – अपने मन को भटकाने से बचना होगा. अपनी क़ाबलियत को भरोसे की नजर से देखेंगे तो आपको अपनी कमियों का भी आभास हो जायेगा. बार-बार अपने विचारों को बदलते चले जाना ही इस समय की कमी है जिस पर काम करने की जरूरत पड़ेगी.
क्या न करें – अपने व्यवहार को इतना सख्त न बना लें की लोगों से उलझन बढती चली जाए. वैसे भी कुछ हद तक यह अपनी गलतियों का ही समय है इसलिए किसी मतभेद को व्यर्थ में आप बेकाबू न होने दें.

वृश्चिक (Scorpio) हालात हर तरह से मददगार हैं पर अपनी उत्तेजना को संभाले रखने की जरूरत है. आप मेहनत भी कर रहे हैं लेकिन लोग उसकी तारीफ नहीं कर पा रहे हैं इसलिए ऐसे हालात बनाने पड़ेंगे की लोग आपकी अच्छाई को समझें और आपके प्रति अपनी सद्भावना बनाए रखें.
क्या करें – ज़िन्दगी की अच्छाई की ओर देखना इस समय बहुत ज्यादा जरूरी होगा और आपको इस बात का आभास होगा की आपके लिए हर तरह की कृपा बनी हुई है. आर्थिक स्तिथि भी ठीक और आप की प्रेरणा आपसे बहुत कुछ करवाने में सक्षम है.
क्या न करें – सिर्फ पैसे को इतनी ज्यादा प्राथमिकता न दें की ज़िन्दगी की बाकी चीज़ें छूटती चली जाएँ, इसलिए अपने काम के प्रति अपनी तवज्जो लगातार बनाये रखें. कामकाज में कमी आ जाएगी तो आपकी घबराहट बढ़ेगी और इस समय यही ठीक नहीं है.

धनु (Sagittarius) जितना मन में भरोसा बनाये रखेंगे उतनी आपकी मेहनत और आपकी क़ाबलियत उभरकर आएगी. बहुत कुछ ऐसा है जो आपकी इच्छाओं को बनाये रखने में आपकी मदद जरुर करेगा इसलिए बहुत धैर्य बनाए रखते हुए अपने कदम आगे बढाते चले जाएँ.
क्या करें – अपने मन में बिठाई हुई घबराहट को छोड़ दें. किसी भी तरह की जिद्द से भी बचें. किसी भी तरह के नुकसान से बचना है तो अपने विचारों को संयोजित तो करना ही पड़ेगा. रिश्तों में भी अपनी इच्छाओं को बहुत ज्यादा बढाकर नुकसान हो सकता है, इसलिए भी अपनी इच्छाओं को बहुत व्यवहारिकता की नजर से देखना होगा.
क्या न करें – दूरस्थान के जो भी विकल्प आपके सामने उभर रहे हैं उन्हें पूरी तरह से ख़ारिज न करें पर इसका यह मतलब नहीं है की आप कोई एकतरफा विचार बनाकर अपने फैसले करने शुरू कर दें क्योंकि इस समय ऐसा करना किसी भी रूप से ठीक नहीं होगा. लोगों का आपके प्रति क्या व्यवहार बनता चला जा रहा है इस बात को समझने में भी कोई कमी न आने दें.

मकर (Capricorn) कोई भी बात अनजाने में बिगड़ेगी तो वो गलती आपकी होगी, जबकि आपकी ओर से बहुत सारी अच्छाईयां भी नजर आ रही हैं. आप लोगों को समझना चाह रहे हैं उनसे जुड़ना चाह रहे हैं फिर भी कोई न कोई ऐसी बात हो रही है जो आपके फासलों को बढाती चली जाए. किसी भी तरह के छुपे हुए नुकसान से बचना है तो अपनी परिस्थितियों का सही आंकलन कर लें.
क्या करें – लोगों की अच्छाई को समझना भी बहुत जरूरी होता है तब जाकर अपनी गलतियों और कमियों का एहसास हो पाता है. आपकी ओर से यह अच्छाई है की आप लोगों को समझना चाह रहे हैं पर कमी यह है की अपनी गलतियों का आभास नहीं हो पा रहा है. किसी भी तरह के मतभेद का यह एक बड़ा कारण हो सकता है जिस ओर आपको ध्यान तो देना ही पड़ेगा.
क्या न करें – पैसे के बारे में सोचना और अपनी समृद्धि को बढ़ाना अच्छी बात है पर पैसे से जुड़ी परेशानियों को बुलावा देते चले जाना भी ठीक नहीं है. ज्यादा पैसा जुटाकर अपने नुकसान को व्यर्थ में आमंत्रित न करते चले जाएँ.

उपाय – मकर राशि वालों के लिए ख़ास उपाय यह है जी आने वाले चार शनिवार को किसी भी मंदिर में जाएँ और हनुमान जी की मूर्ती के आगे माथा टेक लें. हालात आपकी परिस्थितियों को सँभालने में जरूर मदद करेंगे ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.

कुम्भ (Aquarius) अपनी कोशिशों को सही दिशा भी देनी होगी और अपने नुकसान से भी बचना होगा. बढ़ते हुए खर्चों का असर बहुत दूर तक जा सकता है इस बात को समझना बहुत जरूरी होगा ताकि किसी भी तरह की कठिन परिस्थिति को समय रहते संभाल लिया जाए.
क्या करें – मन की उत्तेजना से भी बचना है और मन के भटकाव से भी बचना है. अपने मन में पहले से आप विचारों का मतभेद बना लेंगे तो नुकसान आपका ही होगा इसलिए भी अपनी एकाग्रता को बनाये रखने की जरूरत पड़ेगी. जो जैसा चल रहा है उसे वैसे ही चलाते चले जाना भी सूझबूझ की निशानी होती है.
क्या न करें – कामकाज से जुड़ी परेशानियों को पैसे से दूर करने की कोशिश न करें इसलिए ऐसी स्तिथि न बनने दें जो रोज़मर्रा के कारणों की वजह से आपके फोकस को बिगाडती चली जाए.

मीन (Pisces) हालात हर तरह से मददगार हैं क्योंकि आपकी मेहनत आपके काम में लगी हुई है, आपका प्रदर्शन भी बेहतर हो रहा है और आप अपनी अच्छाई से उस क़ाबलियत को ओर बढाते हुए नजर आ रहे हैं.
क्या करें – अपने कामकाज के क्षेत्र में आप किसी प्यार के रिश्ते को खोजने की कोशिश कर रहे हैं. आपके विचार अच्छे हैं पर मन का असंमजस बहुत है, इस बात को समझना भी जरूरी है की क्या यह विचार आपका दूर तक साथ निभाएगा.

क्या न करें – अपने कामकाज की स्तिथि में किसी भी तरह की कमी न निकालें. लोगों के विचारों के खिलाफ भी अपने मन में कोई विचार न बनाते चले जाएँ क्योंकि ऐसा करने से कोई लाभ होने वाला नहीं है.

No comments:

Post a Comment

Please do not post any message with links. It will not be approved.